नई दिल्ली/कोलकाता: पेट्रोल-डीज़ल (Petrol Diesel Price Hike) की बढ़ती कीमतों का असर अब दूसरी चीज़ों पर भी दिखने लगा है. सब्जी के दाम आसमान छू रहे हैं. दिल्ली में प्यार और टमाटर के साथ ही अन्य सब्जियों की कीमत भी इतनी बढ़ गई है कि लोगों का बजट बिगड़ने लगा है.Also Read - CNG Price Hike: दिल्ली सहित इन राज्यों में CNG पर भी महंगाई की मार, आज से बढ़ेंगी कीमतें

सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि पेट्रोल-डीज़ल (Petrol Diesel) की बढ़ती कीमतों और खराब मौसम के चलते सब्जी के दाम बढ़ रहे हैं. प्यार टमाटर पचास रुपए हो गए हैं. जबकि अन्य सब्जियां भी काफी महंगी हो गई हैं. पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ने से सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि ढुलाई खर्च बढ़ जाता है कि इसलिए सब्जी की कीमतें भी बढ़ जाती हैं. Also Read - Petrol Diesel Price Cut: छत्तीसगढ़ में भी पेट्रोल-डीजल हुआ सस्ता, जानें CM भूपेश बघेल ने VAT में की कितनी कटौती

कोलकाता में विरोध प्रदर्शन
इस बीच पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों को लेकर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ईंधन की बढ़ती कीमतों को लेकर प्रदर्शन किया. मध्य कोलकाता के मोहम्मद अली पार्क क्षेत्र में बस मिनीबस ऑपरेटर्स कमेटी के सदस्यों ने विरोध स्वरूप डनलप और एस्प्लेनेड के बीच कई मीटर तक एक बस को रस्सियों से खींचा. ऑपरेटरों के निकाय के सदस्य प्रदीप नारायण बसु ने कहा, ‘मौजूदा स्थिति में बसों का संचालन करना लगभग असंभव हो गया है. नरेंद्र मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों को रोकने के लिए कुछ नहीं कर रही है. वह क्या यह चाहती है कि हम रस्सियों के साथ बसें चलाएं?’ Also Read - गृह मंत्री अमित शाह ने राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को किया फोन, जानें क्या हुई बात

टीएमसी समर्थकों ने फूलों से सजे खाली एलपीजी सिलेंडर को लेकर मध्य कोलकाता के एक अन्य हिस्से में मोदी का पुतला फूंका. टीएमसी के राज्य महासचिव कुणाल घोष के नेतृत्व में मानिकतला में प्रदर्शनकारियों ने तख्तियां हाथों में लिये केंद्र के खिलाफ नारेबाजी की. उन्होंने आरोप लगाया, ‘देश कई महीनों से ईंधन की कीमतों में अभूतपूर्व वृद्धि से जूझ रहा है, लेकिन भाजपा सरकार लोगों की दुर्दशा के बारे में चिंतित नहीं है.’ कोलकाता में रविवार को पेट्रोल की कीमत 108.11 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल की कीमत 99.43 रुपये प्रति लीटर थी.