नई दिल्ली: मार्केटिंग गुरु फिलिप कोटलर ने अवार्ड के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी है और देश के प्रति नि:स्वार्थ सेवा के लिए उनकी सराहना की है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पुरस्कार को लेकर प्रधानमंत्री पर कटाक्ष किया था. कोटलर ने ट्विटर पर मंगलवार को कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को प्रथम फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड प्रदान किए जाने के लिए बधाई देता हूं. शानदार नेतृत्व और निरंतर देश के प्रति नि:स्वार्थ सेवा के लिए उन्हें चुना गया है. उन्होंने कहा कि भारत में मोदी के प्रयासों के कारण ‘असाधारण आर्थिक, सामाजिक और तकनीकी विकास’ हुआ है.

मार्केंटिंग गुरु ने कहा कि प्रथम फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड से प्रधानमंत्री को नवाजे जाने के साथ भविष्य के अवार्ड के लिए मापदंड और ऊंचा उठ गया है. इससे पहले, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह ‘‘विश्व प्रसिद्ध’’ कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड हासिल करने के लिए उन्हें बधाई देना चाहते हैं. राहुल ने तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘यह पुरस्कार इतना प्रसिद्ध है कि इसकी कोई ज्यूरी नहीं है, पहले किसी को दिया नहीं गया और अलीगढ़ की एक गुमनाम कंपनी द्वारा समर्थित है. इसके इवेंट साझेदार: पतंजलि और रिपब्लिक टीवी हैं.

पुरस्कार को लेकर प्रधानमंत्री पर कटाक्ष किए जाने पर कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधा. स्मृति ईरानी ने पलटवार करते हुए मंगलवार को कहा कि कांग्रेस प्रमुख का ‘परिवार’ दूसरों से पुरस्कृत होने के बजाय ‘खुद को ही’ देश का सर्वोच्च असैन्य सम्मान ‘भारत रत्न’ प्रदान करता रहा. उन्होंने राहुल की टिप्पणी पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया, ‘यह एक ऐसे शख्स ने कहा है जिनके शानदार परिवार ने खुद को ‘भारत रत्न’ देने का फैसला किया.

प्रधानमंत्री मोदी को ‘फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड’ सोमवार को प्रदान किया गया. प्रधानमंत्री कार्यालय से सोमवार को जारी बयान में कहा गया कि यह पुरस्कार तीन आधार रेखा ‘पीपुल, प्रॉफिट और प्लानेट’ पर केन्द्रित है. यह पुरस्कार प्रत्येक वर्ष किसी देश के नेता को प्रदान किया जायेगा. फिलिप कोटलर नार्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी, कैलॉग्स स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में मार्केटिंग के प्रोफेसर हैं.