नई दिल्‍ली: देश की राजधानी में बढ़ रहे मामलों के बीच दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज सोमवार को घोषणा की है कि उनकी सरकार कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्लाज़्मा बैंक बनाने जा रही है. सीएम केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में हम कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्लाज़्मा बैंक बनाने जा रहे हैं. देशभर में ये पहला प्लाज़्मा बैंक होगा. मैं ठीक हुए लोगों से प्लाज़्मा दान करने की अपील करता हूं.Also Read - Assembly Polls 2022: कोरोना के मामलों के बीच क्या रैलियों, रोड शो पर लगी पाबंदियां बढ़ेंगी? चुनाव आयोग की अहम बैठक आज

वीडियो कांफ्रेंस के जरिये एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले दो दिन में यह बैंक काम करने लगेगा. उन्होंने बताया कि आप सरकार कोविड-19 से स्वस्थ हो चुके लोगों को प्लाज्मा दान करने के लिए प्रोत्साहित करेगी. Also Read - Booster Dose: कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर WHO की तरफ से आया यह बयान...

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, यह ‘प्लाज़्मा बैंक’ दिल्ली में लिवर और पित्त विज्ञान संस्थान में स्थापित किया जाएगा. आपके आने-जाने और टैक्सी का खर्चा सरकार देगी बस आप प्लाज़्मा देने के इच्छुक हों. Also Read - Jammu Kashmir: बर्फ से ढके पहाड़ों पर 7-8 घंटे पैदल चलकर लगाने जाते हैं कोरोना वैक्सीन, तस्वीरें देख स्वास्थ्यकर्मियों को करेंगे सलाम!

दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑनलाइन प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के जरिए कहा, LNJP अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. असीम गुप्ता का कल कोरोना के कारण निधन हो गया. डॉ. असीम गुप्ता की आत्मा को भगवान अपने चरणों में जगह दे. वो हम सबके लिए बहुत बड़ी प्रेरणा हैं. उनके परिवार को सरकार द्वारा 1करोड़ रुपए की मुआवजा राशि दी जाएगी.

सीएम केजरीवाल ने यह भी कहा, आज दिल्ली में बेड्स की कमी नहीं है. अभी हमारे पास 13500 बेड है, जिसमें से 6000 भरे हुए हैं 7500 खाली हैं.