दिल्ली में कोरोनावायरस के कुछ मरीजों का इलाज प्लाज्मा थेरेपी से किया गया. जिसके प्रथम चरण के परिणाम काफी उत्साहवर्धक पाए गए हैं. ये बात दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कांफ्रेंस में कही है. Also Read - यूपी में 8 जून से खोले जाएंगे धार्मिक स्थल, होटल, रेस्तरां और शॉपिंग मॉल; जुलाई में खुलेंगे स्कूल

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में कोरोनावायरस के मरीजों को प्लाज्मा दिया गया. उस समय तक वे आईसीयू में थे. दो दिन में ही उनकी हालत में सुधार हुआ. आज वे वार्ड में शिफ्ट किए जाएंगे. उनकी स्थिति बेहतर है. दो दिन में हालत सुधर गई है’. Also Read - दिल्ली सरकार ने केंद्र से मांगे 5000 करोड़ रुपए, कहा- हमें खर्च के लिए ज़रूरत है

केजरीवाल ने बताया कि केंद्र सरकार ने अनुमित दी थी के एलएनजेपी में सीरियस मरीजों पर प्लाज्मा थेरेपी कर सकते हैं. फिर सरकार को इसके परिणामों को लेकर सूचित करना होगा. इसके बाद ही सरकार की मंजूरी से अन्य मरीजों को ये इलाज दे सकते हैं. Also Read - आर्थिक गतिविधियों को बंद करने से पहले रूपरेखा तैयार करके समीक्षा करनी चाहिए थी : यामाहा

केजरीवाल ने साफ किया कि अगले दो-तीन दिनों में और लोगों पर इस थेरेपी को देकर परिणाम देखेंगे. ये प्रारंभिक नतीजे हैं.

 

केजरीवाल ने कहा कि लोग ये ना समझें कि इसमें ब्लड डोनेट होगा, कमजोरी आएगी. ये केवल एक प्रक्रिया है जिसमें आपका ब्लड लेकर, उसके प्लाज्मा से इलाज किया जाता है.

उन्होंने अपील की कि जो लोग कोरोना से ठीक हुए हैं वे आगे आकर दूसरे लोगों की मदद करें.