PM Awas Yojana: प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojna) को 25 जून 2015 को लॉन्च किया गया था. इस योजना का मकसद हर किसी को घर उपलब्ध कराना था. इस योजना के तहत कमजोर वर्ग के लोग अपने घर खरीदने के सपने को पूरा कर सकते है. इस योजना के तहत शहरी हो या ग्रामीण क्षेत्र किसी भी जगह आप कम दामों में अपना घर खरीद सकते हैं. इस योजना का लक्ष्य साल 2022 तक सबके अपना घर होने का लक्ष्य रखा गया था. बता दें कि इस योजना के तहत किसी भी कमजोर वर्ग के लिए घर के आकार की सीमा 30 वर्ग मीटर तक हो सकती है.Also Read - Noida से जुड़ी 350 करोड़ की ऑनलाइन धोखाधड़ी का खुलासा उत्‍तरखंड STF ने किया, चीनी हैं मास्‍टरमाइंड

लेकिन इस योजना के लाभार्थियों के मद्देनजर कई नियम भी बनाए गए है. इन नियमों के अनुसार लाभार्थी आर्थिक रूप से कमजोर होना चाहिए साथ ही उसकी सालाना आय 3 लाख तक की होनी चाहिए. दूसरा वर्ग है निम्न वर्ग, निम्न वर्ग के लोगो की सालाना परिवारिक आय 3-6 लाख रुपये होनी चाहिए. मध्यम वर्ग के लिए सालाना आय 6-12 लाख रुपये होनी चाहिए. सरकार ने इन लोगो को घर खरीदने में छूट का प्रवधान दिया हुआ है. प्रधानमंत्री आवास योजना का मकसद देश में 31 मार्च 2022 तक 2 करोड़ घर बनाने व उन्हें जरूरतमंदों आवंटित करने का है. Also Read - UP Panchayat Election 2021: बदला-बदला सा होगा इस बार का पंचायत चुनाव, जानिए क्या हो रही है तैयारी

पीएम आवास योजना के तहत आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों ही माध्यमों से आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आपको https://pmaymis.gov.in/ पर जाकर आवेदन करना होगा. या फिर आप ऑफलाइन आवेदन करने के लिए कॉमन सर्विस सेंटरो पर फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते है. इसके लिए आपके पास कई प्रमाण पत्रों की जरूरत भी होगी. जैसे आपके पास आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, निवास प्रमाण पत्र, या फिर ड्राइविंग लाइसेंस का होना अनिवार्य है. बगैर इसके आपको आवेदन करने में या फिर फॉर्म के सब्मिट करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. Also Read - CBD Oil Illegal है तो ऑनलाइन मिलता कैसे है, मीरा चोपड़ा का सवाल?