सबको मकान देने अपनी योजना की तरफ मोदी सरकार ने एक और कदम आगे बढ़ाया है। सरकार ने पीएम आवास योजना के तहत मध्यम आय वर्ग के लोगों को भी सस्ता होम लोन देने का वायदा निभाने की ओर अहम कदम उठाया है। इसे लेकर सरकार ने बुधवार को गाइडलाइंस जारी की। सालाना 18 लाख रुपये तक की आय वालों को इसका फायदा मिलेगा।Also Read - जी-20 शिखर सम्मेलन 30 अक्टूबर को, पीएम मोदी अफगान संकट पर कर सकते हैं ये आह्वान

इसका मकसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की साल 2022 तक सबको आवास देने की घोषणा को पूरा करना है। केंद्रीय शहरी विकास और शहरी आवास मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने बुधवार को इससे जुड़े दिशा-निर्देश जारी किया। नायडू ने कहा कि देश में सबसे ज्यादा आबादी मध्यम वर्ग की है। इस वर्ग के हितों के संरक्षण का वादा प्रधानमंत्री मोदी पहले ही कर चुके हैं। छह से 18 लाख की सालाना आय वालों को इसका फायदा मिलेगा। लेकिन चालू साल के एक जनवरी के बाद होम लोन लेने वालों को भी लाभ मिलेगा। Also Read - Vaccine Century: कोरोना टीका बनाने वाली सात भारतीय कंपनियों के निर्माताओं से मिले पीएम मोदी, कई अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

इस योजना के तहत 20 साल की अवधि वाले होम लोन पर अधिकतम 2.35 लाख रुपये की ब्याज सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है। अविवाहित युवाओं को भी नए मकान लेने के लिए ये सुविधा मिल सकती है। कर्ज देने वाली 70 वित्तीय संस्थाओं और नेशनल हाउसिंग बैंक के बीच बुधवार को इसे लेकर समझौता हुआ। Also Read - आत्मनिर्भर भारत स्वयंपूर्ण गोवा कार्यक्रम: पीएम मोदी ने कहा- अब गोवा का मतलब विकास मॉडल भी है

इस योजना के तहत नौ लाख रुपये की वार्षिक आय वालों के होम लोन पर चार फीसदी की छूट मिलेगी। इसी तरह 18 लाख रुपये की सालाना आय वालों को 12 लाख तक के लोन पर तीन फीसदी छूट मिलेगी।