नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देश में जारी हुए लॉकडाउन के बाद 5वी बार राष्ट्र को संबोधित करते हुए 20 लाख करोड़ के विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी. भारत सरकार ने इस पैकेज की घोषणा लॉकडाउन के बीच देश की अर्थव्यवस्था को बूस्ट देने के लिए की थी. पीएम मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान में देश को मजबूत बनाने वाले किसानों वर्ग पर विशेष ध्यान दिया गया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारण ने पैकेज के बारे में जानकारी देते हुए बताया था कि इस विशेष आर्थिक पैकेज का इस्तेमाल कैसे किय़ा जाएगा. Also Read - लॉकडाउन में ये काम करती नजर आईं आलिया भट्ट, शेयर किया वीडियो

20 लाख करोड़ के विशेष आर्थिक पैकेज के बारे में विस्तार से बताने के बाद वित्त मंत्री ने आखिरी में इस बात की भी जानकारी दी थी कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 6 मई तक 8.19 करोड़ किसानों के खाते में 2-2 हजार रुपये ट्रांसफर कर दिए गए हैं. किसानों के खाते में ये रुपए PM Kisan Samman Nidhi की 5वी किश्त के रूप में जमा किए गए हैं और अब जल्द ही 6वीं किश्त भी जारी कर दी जाएगी. इस योजना के तहत अब तक करोड़ों किसानों को लाभ मिल चुका है. Also Read - राज्यसभा सचिवालय का अफसर कोरोना पॉजिटिव, पार्लियामेंट की Annexe बिल्डिंग के दो फ्लोर सील

इस योजना के तहत बैंक अकाउंट में पैसे आए हैं या नहीं इसकी जानकारी कोई भी किसान किसी बैंक शाखा में जाकर तो ले ही सकता है. इसके अलावा अगर इस स्कीम के तहत खुले अकाउंट में किसान का मोबाइल नंबर जुड़ा है तो इसमें भी किश्त के आते ही नोटिफिकेशन आ जाएगा. जिसे आप अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में जाकर चैक कर सकते हैं. Also Read - कोरोना मरीजों की मदद के लिए पैसे जुटाने के चलते दुआ लीपा, डेरुलो संग जुड़े अर्जुन

यही नहीं pmkisan.gov.in के जरिए भी इसके बारे में जानकारी ली जा सकती है. दरअसल, सरकार ने पीएम-किसान योजना का फायदा ले रहे किसानों की लिस्ट बनाई है. जिसे pmkisan.gov.in पर अपलोड किया गया है. इस वेबसाइट पर किसान जिला, तहसील, गांव के हिसाब से अपना नाम चेक कर यह देख सकता है कि इस लिस्ट में उसका नाम है या नहीं.

बता दें अगर कोई भी किसान पीएम-किसान योजना का लाभ ले रहा है तो उसे अपना रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है. इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान के पास आधार कार्ड नंबर, बैंक खाता होना और आधार कार्ड का बैंक खाते से जुड़ा होना बेहद जरूरी है. क्योंकि, सरकार पीएम किसान योजना के तहत दी जाने वाली रकम को डीबीटी के जरिए सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में जमा कर रही है.