नई दिल्ली: भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की यहां मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में हुई बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह ने अलग से भी चर्चा की. बैठक में 26 मार्च के राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हुई. Also Read - Covid-19: गृह मंत्री अमित शाह से लेकर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ तक, इन राज नेताओं ने जलाए दीये

  Also Read - प्रधानमंत्री की दीये जलाने की अपील भाजपा का छुपा एजेंडा: एचडी कुमारस्वामी

सीईसी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के अलावा रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय सड़क एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने हिस्सा लिया. सीईसी की बैठक समाप्त होने के बाद मोदी, शाह और नड्डा ने एक और बैठक की. समझा जा रहा है कि तीनों शीर्ष भाजपा नेताओं की इस बैठक में जारी राजनीतिक स्थिति पर चर्चा हुई. सीईसी की यह बैठक ऐसे समय में हुई है, जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया, और इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस से अपना 18 साल पुराना रिश्ता समाप्त कर दिया.

मध्य प्रदेश की 15 माह पुरानी कमलनाथ सरकार संकट में
उन्होंने इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की. ताजा घटनाक्रम के बाद मध्य प्रदेश की 15 माह पुरानी कमलनाथ सरकार संकट में आ गई है. सिंधिया शाम को शाह की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो सकते हैं.