नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वॉशिंगटन के होटल विलार्ड इंटरकंटीनेंटल में दिग्गज कंपनियों के सीईओ के साथ राउंड टेबल मीटिंग की. इस दौरान मोदी ने कहा कि दुनिया भारत की ओर देख रही है, बिजनेस को आसान बनाने के लिए हमारी सरकार की तरफ से 7000 सुधार किए गए हैं. Also Read - अहमदाबाद और सूरत को मेट्रो ट्रेन का तोहफा, पीएम मोदी ने दो परियोजनाओं की आधारशिला रखकर कहा- बदलेगी सूरत

पीएम मोदी ने जीएसटी का भी जिक्र किया और कहा कि यह फैसला अमेरिका के बिजनेस स्कूलों में स्टडी का विषय हो सकता है. उन्होंने कहा कि भारत का विकास अमेरिका और भारत दोनों देशों के लिए लाभ के अवसर प्रदान करता है. अमेरिका के पास इसमें योगदान करने का बड़ा अवसर है. पीएम के साथ राउंड टेबल मीटिंग में दिग्गज कंपनियों के टॉप 21 सीईओ शामिल हुए. ये भी पढ़ें- अमेरिका के टॉप बिजनेस लीडर्स से मिले पीएम मोदी, इन कंपनियों के CEOs हुए शामिल

अमेरिका की शीर्ष कंपनियों के प्रमुखों से भारत में निवेश करने का आह्वान करते हुए मोदी ने कहा कि भारत एक कारोबार हितैषी देश के रूप में उभर रहा है. उन्होंने कहा कि भारत में 1 जुलाई से लागू हो रहा जीएसटी गेम चेंजर है. प्रधानमंत्री के साथ बैठक में एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट और गूगल जैसी कंपनियों के सीईओ भी शामिल थे. ये भी पढ़ें- अमेरिका पहुंचे मोदी ट्रंप से करेंगे पहली मुलाकात, ये है पीएम का पूरा कार्यक्रम

बता दें कि मोदी रविवार सुबह तीन देशों की अपनी यात्रा के दूसरे चरण में अमेरिका के वॉशिंगटन पहुंचे. पीएम के वॉशिंगटन पहुंचने से पहले ही वहां मौजूद भारतीय समुदाय के लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया. उन्होंने मोदी के स्वागत में  ‘मोदी-मोदी’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए.

मोदी और ट्रंप की पहली मुलाकात पर दुनिया भर की निगाह टिकी हुई है. ट्रंप ने पीएम मोदी के स्वागत के लिए एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में ट्रंप ने मोदी को सच्चा दोस्त बताया. ट्रंप ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘सोमवार को भारत के पीएम मोदी का व्हाइट हाउस में स्वागत करने की राह देख रहा हूं, ‘सच्चे दोस्त’ से अहम सामरिक मसलों पर वार्ता होगी.