झारसुगुडा (ओडिशा): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को नवीन पटनायक सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि ‘‘पीसी’’ (पर्सेंटेज कमीशन) संस्कृति और निर्णय करने में विलंब करना राज्य सरकार की पहचान बन गई है. पीएम ने कहा कि इसके चलते यहां ‘‘धीमा’’ विकास हो रहा है. Also Read - दिल्ली हिंसा में जल गया घर, ओडिशा के मुख्यमंत्री ने बीएसएफ जवान को दिए 10 लाख रुपये

Also Read - ओडिशा: कांग्रेस विधायक ने विधानसभा अध्यक्ष को किया ‘फ्लाइंग किस’, ठहाकों की आवाज से गूंजा सदन

झारसुगुडा में एक नये हवाई अड्डे का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजद सरकार में बिना रिश्वत दिए हुए केंद्रीय कल्याण कार्यक्रमों का लाभ लोगों को नहीं मिलता, चाहे वह शौचालयों का निर्माण हो या सिंचाई का. हवाई अड्डे का नाम स्वतंत्रता सेनानी वीर सुरेन्द्र साई के नाम पर रखा गया है. Also Read - IANS CVoter एक्जिट पोल: एनडीए को 287 सीटें, यूपीए को 128 सीटें

पीएम मोदी ने 13,000 करोड़ रुपए की लागत वाली तालचर उर्वरक परियोजना की आधारशिला रखी

मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार और निर्णय लेने में विलंब होना ओडिशा सरकार के कामकाज का पर्याय बन गए हैं. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘पीसी (पर्सेंटेज कमीशन) और निर्णय लेने में विलंब होने के कारण ओडिशा में विकास धीमा हो रहा है.’’

पीएम मोदी ने सीएम पटनायक से की अपील, ओडिशा के लोगों को आयुष्मान भारत योजना से जोड़े

अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनावों से पहले बीजद सरकार पर हमला तेज करते हुए मोदी ने ‘‘बड़े परिवर्तन’’ की आवश्यकता पर जोर दिया ताकि ओडिशा में विकास की गति तेज हो सके.