नई दिल्ली: रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे और ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कर दिया. रविवार सुबह करीब साढ़े दस बजे 14 लेन के दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने 7 किलोमीटर रोड शो में भी हिस्सा लिया. ये रोड शो दिल्ली के निजामुद्दीन से शुरू होकर यूपी बॉर्डर के गाजीपुर तक गया और फिर वहां से यू टर्न लेकर अक्षरधाम मंदिर के पास आकर रुक गया. इस दौरान सड़क के किनारे आम लोग और बीजेपी के कार्यकर्ता और नेता पीएम मोदी का स्वागत करने के लिए खड़े रहे, पीएम ने भी अपनी गाड़ी की छत पर खिड़की से बाहर निकलकर रोड शो निकाला और पूरे रास्ते हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार करते रहे. Also Read - मैं पार्टी में जाति, धर्म आधारित प्रकोष्ठ के पक्ष में नहीं हूं: नितिन गडकरी

अभी पहला चरण हुआ है शुरू
बता दें कि अभी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे के 9 किलोमीटर स्ट्रेच को ही जनता के लिए खोला गया है बाकी हिस्से पर काम जारी है. एक बार पूरी तरह से चालू होने के बाद दिल्ली से मेरठ तक सिर्फ 45 मिनट में पहुंचा जा सकेगा. दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे देश में पहला ऐसा हाईवे है जो 14 लेन का है, इसके अलावा इसमें सोलर पावर और सीसीटीवी से लेकर पर्यावरण का ख्याल रखते हुए रेन वॉटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था भी की गई है. Also Read - हैदराबाद का यह भाग्‍यलक्ष्‍मी मंदिर नगर निगम की चुनावी जंग के बीच क्‍यों बना सुर्खियों का केंद्र

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का किया उद्घाटन
दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी अक्षरधाम से हेलिकॉप्टर में उड़ान भरकर हरियाणा के कुंडली पहुंचे, वहां उन्होंने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे को बनाने के दौरान का कार्य म्यूजियम में देखा. इसके बाद पीएम मोदी बागपत पहुंचे जहां उन्होंने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन किया और इस हाईवे को लोगों को समर्पित किया. इस मौके पर पीएम के साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, यूपी के राज्यपाल राम नाइक, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और वीके सिंह भी मौजूद थे. Also Read - Corona vaccine in India: कोरोना टीका विकसित करने में शामिल तीन टीमों से बातचीत करेंगे पीएम मोदी

पीएम ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने के बाद बागपत में एक जनसभा को संबोधित किया, इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर विकास के काम में रोड़ा अटकाने का आरोप लगाया और अपनी सरकार के 4 साल की उपलब्धियों का बखान किया.

मेरे लिए देश ही परिवार
पीएम मोदी ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे बनने को एक अहम उपलब्धि बताते हुए कहा, ”मेरे देशवासियों आप देख लीजिए कि इस तरफ कौन है और उस तरफ कौन है, उस तरफ वो लोग हैं जिनके लिए उनका परिवार ही उनका देश है और मेरे लिए मेरा देश ही मेरा परिवार है. देश के सवा सौ करोड़ लोग ही मेरा परिवार है. गंवाने के लिए मेरे पास सिर्फ आपका प्यार और आशीर्वाद है. करने के लिए मेरे पास सिर्फ सवा सौ करोड़ देशवासियों की सेवा है.”

विपक्ष पर लगाया झूठ फैलाने का आरोप
पीएम ने कांग्रेस और विपक्ष पर झूठ फैलाने और दलितों और पिछड़ो के विकास में दखल देने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ”आज देश के लोग देख रहे हैं कि अपने सियासी फायदे के लिए ये लोग सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर भी खुलेआम झूठ बोल जाते हैं. चाहे दलितों पर अत्याचार से जुड़े कानून की बात हो या फिर आरक्षण की बात, झूठ बोलकर, अफवाह फैलाकर ये लोगों को भ्रमित करने की साजिश करते रहे हैं. सच्चाई ये है कि गरीबों के लिए, दलितों-पिछड़ों-आदिवासियों के लिए जो भी कार्य किया जाता है, कांग्रेस और उसके साथ चलने वाले दल या तो उसमें रोड़े अटकाने लगते हैं, या उसका मजाक उड़ाते हैं.”

अपनी सरकार का किया गुणगान
शनिवार को ही अपने 4 साल पूरे करने वाली बीजेपी सरकार के मुखिया पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार की खूबियों का भी बखान किया. उन्होंने कहा, ”चार वर्ष पहले देश में सिर्फ 2 मोबाइल बनाने वाली फैक्ट्री थीं और आज 120 फैक्ट्री मोबाइल फोन बना रही हैं और उसमें कई तो एनसीआर में ही हैं जिससे अनेक युवाओं को रोजगार मिला है.”

पीएम ने कहा कि आज जब इस नई सड़क पर चलने का अवसर मुझे मिला तो मैंने अनुभव किया कि 14 लेन वाले हाईवे का सफर दिल्ली-एनसीआर के लोगों के जीवन को कितना सुगम बनाने वाला है. कहीं कोई रुकावट नहीं, कंक्रीट के साथ हरियाली का भी मेल है ये हाईवे. अंत में पीएम मोदी ने इतनी गर्मी में भी इतनी भारी संख्या में आने के लिए लोगों का धन्यवाद किया और विश्वास दिलाया कि विपक्ष चाहे जितने मर्जी रोड़े अटकाए लेकिन उनके सामने मोदी है, जब काम हाथ में लिया है तो उसे पूरा करके ही रहूंगा.”