देश में कोरोना की भयावह स्थिति के बीच इस महामारी से जंग की कमान पीएम मोदी ने अपने हाथ में ले ली है. उन्होंने बुधवार को इस महामारी से लड़ने के लिए भारतीय वायु सेना द्वारा चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा की और इस दौरान ऑक्सीजन टैंकरों तथा अन्य आवश्यक उपकरणों के परिवहन में सुरक्षा का ध्यान रखते हुए तेजी लाने का निर्देश दिया.Also Read - टोक्यो में PM मोदी का भव्य स्वागत, भारतीयों ने लगाए मोदी-मोदी और भारत माता की जय के नारे | Watch Video

वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने आज प्रधानमंत्री से मुलाकात की और देश में कोविड-19 की ताजा स्थिति में सुधार के लिए वायु सेना द्वारा किए जा रहे प्रयासों से उन्हें अवगत कराया. Also Read - Quad Summit 2022: 40 घंटे में 23 मीटिंगों का हिस्सा बनेंगे पीएम मोदी, दौरे में इन सब मुद्दों पर होगी बैठकें

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी किए गए बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि भारतीय वायु सेना देश की कोविड-19 संबंधी जरूरतों को पूरी करने के लिए 24 घंटे प्रयासरत है. Also Read - Quad Summit: जापान पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, भारतीयों ने लगाए भारत माता की जय के नारे

बयान में कहा गया, ‘‘प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन टैंकरों और अन्य आवश्यक वस्तुओं के परिवहन ऑपरेशन की गति तेज करने, उसका स्तर बढ़ाने और उसकी सुरक्षा पर ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया.’’

प्रधानमंत्री ने इस दौरान इस अभियान की सुरक्षा के साथ-साथ इसमें जुटे वायु सेना के कर्मियों की संक्रमण से सुरक्षा सुनिश्चित करने पर जोर दिया.

बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि इस अभियान में बड़े और छोटे हवाई जहाजों का उपयोग किया जा रहा है ताकि देश के हर क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा सके.

प्रधानमंत्री ने इस दौरान वायु सेनाकर्मियों और उनके परिजनों के स्वास्थ्य के बारे में पता किया. भदौरिया ने उन्हें बताया कि वायु सेना के अधिकांश कर्मियों का टीकाकरण हो चुका है.

भदौरिया ने प्रधानमंत्री को यह भी बताया कि वायु सेना ने अपने अस्पतालों में कोविड-19 से संबंधित सुविधाओं में इजाफा किया है और जहां संभव हो रहा है वहां सामान्य नागरिकों की भी देखभाल की जा रही है.