PM Modi Man Ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिए सबसे पहले सरदार मिल्खा सिंह को याद किया. उसके बाद उन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में टीकाकरण को जरूरी बताया. इसके साथ ही उन्होंने मॉनसून और जल संरक्षण की बात कही और जल संरक्षण पर जोर देते हुए कहा कि बादल सिर्फ हमारे लिए नहीं, आनेवाली पीढ़ी के लिए भी बरसते हैं. इसके साथ ही पीएम ने मन की बात में बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि एक जुलाई को नेशनल डॉक्टर्स डे मनाया जाएगा. पीएम के मन की बात कार्यक्रम का ये  78वां संस्करण है.Also Read - चार महीने बाद काशी आ रहे हैं पीएम मोदी, चुनावों में मिली जीत के बदले काशी की जनता को मिलेगा हजारों करोड़ का रिटर्न गिफ्ट

कोरोना है बहुरूपिया, वैक्सीन है सबसे बड़ा हथियार Also Read - पीएम मोदी ने G7 समिट में नेताओं को गिफ्ट में दी भारत की सांस्कृतिक विरासत, देखें किसे क्या दिया

कार्यक्रम में PM ने मध्यप्रदेश के बैतूल के एक गांव के लोगों से बात की. गांव में रहने वाले किशोरी लाल से PM मोदी ने पूछा कि आपने भी वैक्सीन पर फैलाए जा रहे भ्रम के बारे में सुना है क्या? किशोरी लाल ने जवाब दिया कि रिश्तेदार बताते हैं कि कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद लोग बीमार हो जाते हैं और लोगों की मौत हो जाती है. इस पर मोदी ने कहा कि इन अफवाहों पर ध्यान नहीं देना है. हमें जिंदगी बचानी है, लोगों को बचाना है, देश को बचाना है.यह बीमारी बहरूपिए की तरह है. यह रंग रूप बदलकर हमला करती है. Also Read - क्रिकेट में आज: 23 साल पहले मिताली ने किया था डेब्‍यू, प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ यूं किया याद

कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन हमारा हथियार है और इसे जरूर लगवाना है. हमारे वैज्ञानिकों ने बड़ी मेहनत कर के वैक्सीन बनाई है. दिन-रात एक करके उन्होंने हमें कोरोना के खिलाफ हथियार दिया है. अफवाहों से बचकर रहें और अफवाह फैलाने वालों को भी बताएं कि ऐसा न करें.

मन की बात में सबसे पहले पीएम ने मिल्खा सिंह को याद किया

पीएम मोदी ने मन की बात की शुरूआत सरदार मिल्खा सिंह को याद करते हुए किया. उन्होंने कहा कि मिल्खा सिंह का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता है. कुछ दिन पहले कोरोना ने प्रसिद्ध एथलीट मिल्खा सिंह को हमसे छीन लिया. जब वे अस्पताल में थे, तो मुझे उनसे बात करने का अवसर मिला था. मिल्खा सिंह से बात करते हुए मैंने उनसे आग्रह ​किया था कि आपने तो 1964 में टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था इसलिए इस बार जब हमारे खिलाड़ी ओलंपिक के लिए टोक्यो जा रहे हैं तो आपको हमारे एथलीट का मनोबल बढ़ाना है.

1 जुलाई को हम राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाएंगे

PM Modi ने कहा कि एक जुलाई को हम राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाएंगे. इस दिन देश के महान चिकित्सक और स्टेट्समैन डॉक्टर बीसी राय की जन्म-जयंती को समर्पित है. कोरोना-काल में डॉक्टरों के योगदान के हम सब आभारी हैं. हमारे डॉक्टर्स ने अपनी जान की परवाह न करते हुए हमारी सेवा की है.

कोरोना के खिलाफ जंग है जारी, भारत में वैक्सीनेशन की बढ़ी रफ्तार

पीएम ने कहा कि एक साल पहले सबके समाने सवाल था कि वैक्सीन कब आएगी? आज हम एक दिन में लाखों लोगों को मेड इन इंडिया वैक्सीन मुफ्त में लगा रहे हैं. यही तो नए भारत की नई ताकत है.

कोरोना के खिलाफ हम देशवासियों की लड़ाई जारी है, 21 जून को वैक्सीन अभियान के अगले चरण की शुरुआत हुई और उसी दिन देश ने 86 लाख से ज़्यादा लोगों को मुफ्त वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड भी बना दिया..वो भी एक दिन में.

कभी-ना-कभी ये विश्व के लिए केस स्टडी का विषय बनेगा कि भारत के गांव के लोगों, हमारे वनवासी-आदिवासी भाई-बहनों ने इस कोरोना काल में किस तरह अपने सामर्थ्य और सूझबूझ का परिचय दिया है. गांव के लोगों ने क्वारंटीन सेंटर बनाए, स्थानीय जरूरतों को देखते हुए कोविड प्रोटोकॉल बनाए.

पीएम मोदी ने जल संरक्षण पर दिया जोर

पीएम मोदी ने जल संरक्षण पर जोर देते हुए कहा कि देश में अब मानसून का सीजन भी आ गया है. बादल जब बरसते हैं तो केवल हमारे लिए ही नहीं बरसते बल्कि बादल आने वाली पीढ़ियों के लिए भी बरसते हैं. बारिश का पानी जमीन में जाकर इकठ्ठा होता है,जमीन के जलस्तर को भी सुधारता है इसलिए मैं जल सरंक्षण को देश सेवा का एक ही रूप मानता हूं.