नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल को निर्विवाद रूप से ईमानदार एक पूर्ण पेशेवर करार देते हुए कहा कि पटेल ने बैंकिंग प्रणाली को संकट से उबारा और वित्तीय स्थिरता कायम की. उल्लेखनीय है कि पटेल ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया. बता दें पटेल ने निजी कारणों का जिक्र करते हुए सोमवार को अपने पद से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया. Also Read - PM नरेंद्र मोदी ने संकट के समय लोगों से क्यों की रोशनी करने की अपील, शास्त्रों में है महत्व, रामायण में भी है ये बात

केंद्र के साथ विवाद के बीच RBI के गवर्नर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा Also Read - Coronavirus: PM मोदी ने सभी CM से VC के जरिए की मीटिंग, तबलीगी जमात पर भी चिंता

मोदी ने ट्वीट किया, “उर्जित पटेल व्यापक आर्थिक मुद्दों की गहरी समझ रखने वाले बहुत ही उच्च क्षमता के अर्थशास्त्री हैं. उन्होंने बैंकिंग प्रणाली को संकट से निकाल कर व्यवस्थित किया और उसमें अनुशासन सुनिश्चित किया. उनके नेतृत्व में आरबीआई ने वित्तीय स्थिरता कायम की.” मोदी ने कहा, “वह डिप्टी गवर्नर और गवर्नर के रूप में भारतीय रिजर्व बैंक में लगभग छह साल रहे. उन्होंने अपने पीछे एक बड़ी विरासत छोड़ी है. हम उन्हें बहुत याद करेंगे.”

आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल ने इस्तीफा ऐसे समय में दिया है, जब सरकार और आरबीआई के बीच कई सारे मुद्दों को लेकर तनाव की स्थिति बनी हुई थी. इसमें आरबीआई के खजाने को सरकार को स्थानांतरित करने और एमएसएमई सेक्टर में तरलता डालने के कदम उठाने जैसे मुद्दे शामिल हैं.