PM Modi Pay Tribute to Bhagat Singh: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को महान क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वीरता एवं पराक्रम की उनकी गाथा देशवासियों को युगों-युगों तक प्रेरित करती रहेगी. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘मां भारती के वीर सपूत अमर शहीद भगत सिंह की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन. वीरता और पराक्रम की उनकी गाथा देशवासियों को युगों-युगों तक प्रेरित करती रहेगी.’’ Also Read - Bihar: नवादा से एनडीए पर डबल अटैक, राहुल गांधी ने पीएम तो तेजस्वी ने सीएम को ललकारा, VIDEO

मोदी ने ट्वीट के साथ रविवार को प्रसारित अपने ‘मन की बात’ संबोधन की एक क्लिप भी साझा की, जिसमें उन्होंने सिंह को श्रद्धांजलि दी थी. भगत सिंह का जन्म आज ही के दिन 1907 में हुआ था. बेहद कम उम्र से ब्रिटिश शासन के खिलाफ आवाज उठाने, साम्राज्य को निशाना बनाने के उनके क्रांतिकारी कदमों और महज 23 वर्ष की उम्र में फांसी दिए जाने से, वह भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के उल्लेखनीय नायकों में से एक बन गए. Also Read - PM Modi Rally in Bihar Today Live Update: बिहार को पिछड़ा राज्य बनाने वाले फिर सत्ता में आने की कर रहे कोशिश- पीएम मोदी

इतिहास में भारत माता के सबसे लाडले पुत्र भगत सिंह अंग्रेजों की गुलामी से मुक्ति दिलाने के लिए 23 बरस की छोटी सी उम्र में फांसी के फंदे पर झूल गए थे. इतिहास में आज की तारीख अमर शहीद भगत सिंह के जन्मदिन के तौर पर दर्ज है. Also Read - Central Government Employees Bonus News: अच्छी खबर! दिवाली से पहले 30 लाख से अधिक सरकारी कर्मियों को मोदी सरकार का तोहफा, विजयादशमी पर मिलेगा बोनस

28 सितंबर 1907 को अविभाजित पंजाब के लायलपुर (अब पाकिस्तान) में जन्मे भगत सिंह बहुत छोटी उम्र से ही आजादी की लड़ाई में शामिल हो गए और उनकी लोकप्रियता से भयभीत ब्रिटिश हुक्मरान ने 23 मार्च 1931 को 23 बरस के भगत को फांसी पर लटका दिया.