प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता कर देश में कोविड-19 (Covid-19) की स्थिति की समीक्षा की और टीकाकरण अभियान पर विचार-विमर्श किया. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री ने मंत्रिपरिषद के अपने सहयोगियों से टीकाकरण तथा कोविड दिशानिर्देशों का पालन करने के महत्व के बारे में लोगों को जागरूक बनाने को कहा. सूत्रों के मुताबिक बैठक में प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कहा कि उन्होंने जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया है या फिर आधारशीला रखी हैं, उनका उद्घाटन भी वही करें.Also Read - सरकार ने जरूरी 5 मेडिकल उपकरणों पर व्यापार मार्जिन सीमित किया, करीब 620 प्रोडक्‍ट के दाम घटे

उन्होंने मंत्रियों से कहा कि वह सभी परियोजनाओं की निगरानी करें और सुनिश्चित करें कि इनके पूरा होने में देरी ना हो. लगभग 5 घंटे तक चली इस बैठक के दौरान नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कोविड-19 महामारी के बारे में एक प्रस्तुति दी. इस दौरान प्रधानमंत्री ने जोर दिया कि लोगों को बहुत सावधान रहना होगा तभी कोरोना का संक्रमण फैलने से रोका जा सकेगा. Also Read - PM मोदी ने लोकमान्‍य तिलक और शहीद चंद्रशेखर आजाद की जयंती पर उन्‍हें अर्पित की श्रद्धांजलि

भारत में बुधवार में एक दिन में कोविड-19 के 45,951 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की संख्या 3,03,62,848 पर पहुंच गई, जबकि एक दिन में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या लगातार तीसरे दिन 1,000 से कम रही. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार 817 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 3,98,454 हो गई है. एक दिन में कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले लोगों की यह संख्या 81 दिनों में सबसे कम है. Also Read - Mumbai Heavy Rainfall Update: पीएम मोदी ने महाराष्ट्र में बाढ़ को लेकर सीएम ठाकरे से फोन पर की बात, हरसंभव मदद का किया वादा

सुबह 7 बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, देशव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक 33.28 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं. मंत्रालय के मुताबिक कोविड-19 टीके की 73 लाख से अधिक खुराक अभी भी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास उपलब्ध है, जबकि 24,65,980 से अधिक खुराक उन्हें अगले तीन दिन के भीतर प्राप्त हो जाएंगी.

कोविड-19 टीकाकरण के तहत सभी के लिए टीके का नया चरण 21 जून को शुरू हुआ था. अधिक टीकों की उपलब्धता के जरिये टीकाकरण अभियान को तेज किया गया है. राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत भारत सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में कोविड के टीके उपलब्ध कराकर उनकी मदद कर रही है.

(इनपुट: भाषा)