नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी के खिलाफ भारत के प्रयासों को दुनिया के लिए उदाहरण करार देते हुए सोमवार को कहा कि प्रत्येक भाजपा कार्यकर्ता ‘पीएम केयर्स’ कोष में खुद भी सहयोग करे और 40 लोगों को इसके लिए प्रोत्साहित करे. भाजपा के 40वें स्थापना दिवस के मौके पर मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और उनसे यह अपील की कि पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कोरोना के खिलाफ लोगों की मदद से जुड़े जो निर्देश दिए हैं वो उनका पालन करें. Also Read - एक साल तक हर महीने पीएम-केयर्स फंड में 50,000 रुपए दान करेंगे CDS जनरल रावत

मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं से “पंच-आग्रह’ (पांच कदम उठाने का आह्वान) करते हुए कहा कि वे गरीबों को राशन प्रदान करें, फेस कवर जरूर पहनें और लोगों को वितरित भी करें, सेवा करने वालों का आभार व्यक्त करें, आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग करें और करवाएं तथा पीएम केयर्स फंड में सहयोग करें और 40 अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें. उन्होंने कहा, ‘लाखों लोग पीएम केयर्स कोष में दान कर रहे हैं. मेरा पांचवां आग्रह है कि इसमें प्रत्येक भाजपा कार्यकर्ता को खुद भी सहयोग करना है और 40 अन्य लोगों को इसमें सहयोग करने के लिए प्रेरित करना है.’ दरअसल, कोरोना संकट से निपटने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने ‘पीएम केयर्स’ कोष की स्थापना की है जिसमें विभिन्न क्षेत्रों की कई हस्तियों और समूहों ने अनुदान की घोषणा की है. Also Read - कोविड-19 की जंग में मदद के लिए आगे आए CDS बिपिन रावत, हर महीने पीएम केयर्स फंड में दान देंगे 50 हजार रुपए

मोदी ने कहा, ‘कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए एक ‘आरोग्य सेतु ऐप’ विकसित किया गया है. मेरा आग्रह है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकी जानकारी दें और कम से कम 40 लोगों के मोबाइल में ये ऐप इंस्टॉल भी करवाएं.’ उन्होंने रविवार रात देश भर में मौजूदा संकट के खिलाफ एकजुटता प्रकट कर दीये जलाए जाने का उल्लेख करते हुए कहा, ‘कल रात को 9 बजे, हमने 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति के दर्शन किए हैं.” प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हर वर्ग, हर आयु के लोग, अमीर गरीब, पढ़ा-लिखा, अशिक्षित, सभी ने मिलकर एकजुटता की इस ताकत को नमन किया और कोरोना के खिलाफ लड़ाई का अपना संकल्प और मजबूत किया.’ उन्होंने कहा, ‘कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए भारत के अब तक के प्रयासों ने दुनिया के सामने एक अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है.’ मोदी ने कहा कि भारत दुनिया के उन देशों में है जिसने कोरोना वायरस की गंभीरता को समझा और और समय रहते इसके खिलाफ एक व्यापक जंग की शुरुआत की. Also Read - क्रिकेटरों के बाद हॉकी दिग्गजों ने अफरीदी को लगाई फटकार; कहा- खिलाड़ी को शोभा नहीं देती बयानबाजी

उन्होंने कहा, ‘भारत ने एक के बाद एक अनेक निर्णय किए, उन फैसलों को जमीन पर उतारने के भरसक प्रयास किया. सभी सरकारों को साथ लेकर आगे बढ़ने में काई कमी न रहे इसकी चिंता की.’ मोदी ने कहा कि भारत ने जिस तेजी और समग्रता से काम किया है. उसकी प्रसंशा विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है. उन्होंने कहा, ‘तमाम देश एकजुट होकर कोरोना का मुकाबला करें, इसके लिए सार्क देशों की विशेष बैठक हो या जी-20 देशों का विशेष सम्मेलन, भारत ने इन सारे आयोजनों में अहम भूमिका निभाई है.