नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने म्यामां के राष्ट्रपति यू विन मिंत के साथ व्यापक बातचीत की और दोनों देशों ने म्यामां के सामाजिक-आर्थिक विकास पर ध्यान केंद्रित करते हुए गुरूवार को 10 समझौतों पर हस्ताक्षर किये. बुधवार को भारत पहुंचे म्यामां के राष्ट्रपति का राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया गया. उनका और म्यामां की प्रथम महिला नारगिक दाओ चो चो का राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी ने स्वागत किया. Also Read - मंत्री युद्धस्तर पर 10 प्रमुख फैसले और 10 प्राथमिकता वाले क्षेत्रों का प्‍लान तैयार करें: PM मोदी

  Also Read - पीएम मोदी की अपील-'पीएम केयर्स' फंड में सहयोग करने के लिए 40 लोगों को प्रेरित करें हर BJP कार्यकर्ता

बाद में प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मिंत ने हैदराबाद हाउस में वार्ता की तथा दोनों देशों के बीच 10 करार किये गये. अधिकतर समझौतों में म्यामां में खासकर संघर्ष प्रभावित रखाइन प्रांत में भारत की सहायता के तहत चल रही विकास परियोजनाओं पर ध्यान दिया गया है. समझौतों में ‘मानव तस्करी की रोकथाम के लिए सहयोग: तस्करी पीड़ितों को बचाने, खोजने, वापसी और पुन: मुख्यधारा में शामिल करने’ पर एक एमओयू भी शामिल है.


म्यामां के राष्ट्रपति और उनकी पत्नी ने राजघाट पर महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धांजलि भी अर्पित की.