नई दिल्ली: हरियाणा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियां भी कई भाजपा प्रत्याशियों का बेड़ा पार नहीं कर सकीं. राज्य में आखिरी समय करवट लीं परिस्थितियों को देख भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो रैलियां बढ़ाईं जरूर, मगर वहां भी पार्टी प्रत्याशियों की हार हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रचार के आखिरी दिन 19 अक्टूबर को ऐलनाबाद और रेवाड़ी में अतिरिक्त रैलियां की थीं. दोनों जगहों पर भाजपा प्रत्याशियों की हार हुई. Also Read - ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर दिल्ली-हरियाणा का विवाद सुलझा! खट्टर और केजरीवाल की बातचीत का निकला ये नतीजा

रेवाड़ी में भाजपा प्रत्याशी सुनील मूसेपुर को कांग्रेस प्रत्याशी चिरंजीव राव से हार का सामना करना पड़ा, वहीं ऐलनाबाद में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) नेता अभय चौटाला ने 11 हजार से ज्यादा वोटों से भाजपा प्रत्याशी पवन बेनीवाल को हराया. गोहाना में भी मोदी की सभा भाजपा की बेड़ा पार नहीं कर सकी और यहां से कांग्रेस ने जीत का परचम फहराया. Also Read - West Bengal Assembly Election Live Updates: बंगाल में छठे चरण का मतदान जारी, दोपहर 1.30 बजे तक 57.30% वोटिंग

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा में 14 अक्टूबर से रैलियों का आगाज किया था. पहली रैली उन्होंने बल्लभगढ़ में की थी. बल्लभगढ़, कुरुक्षेत्र और हिसार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियां जरूर भाजपा के लिए फायदेमंद रहीं. Also Read - ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए टाटा समूह Cryogenic Containers का करेगा आयात, कोरोना से जंग होगी तेज

(इनपुट आईएएनएस)