नई दिल्ली: हरियाणा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियां भी कई भाजपा प्रत्याशियों का बेड़ा पार नहीं कर सकीं. राज्य में आखिरी समय करवट लीं परिस्थितियों को देख भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो रैलियां बढ़ाईं जरूर, मगर वहां भी पार्टी प्रत्याशियों की हार हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रचार के आखिरी दिन 19 अक्टूबर को ऐलनाबाद और रेवाड़ी में अतिरिक्त रैलियां की थीं. दोनों जगहों पर भाजपा प्रत्याशियों की हार हुई. Also Read - तेलंगाना में 15 अप्रैल के बाद भी जारी रह सकता है लॉकडाउन, मुख्यमंत्री चन्द्रशेखर राव ने पीएम मोदी से किया अनुरोध

रेवाड़ी में भाजपा प्रत्याशी सुनील मूसेपुर को कांग्रेस प्रत्याशी चिरंजीव राव से हार का सामना करना पड़ा, वहीं ऐलनाबाद में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) नेता अभय चौटाला ने 11 हजार से ज्यादा वोटों से भाजपा प्रत्याशी पवन बेनीवाल को हराया. गोहाना में भी मोदी की सभा भाजपा की बेड़ा पार नहीं कर सकी और यहां से कांग्रेस ने जीत का परचम फहराया. Also Read - मंत्री युद्धस्तर पर 10 प्रमुख फैसले और 10 प्राथमिकता वाले क्षेत्रों का प्‍लान तैयार करें: PM मोदी

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा में 14 अक्टूबर से रैलियों का आगाज किया था. पहली रैली उन्होंने बल्लभगढ़ में की थी. बल्लभगढ़, कुरुक्षेत्र और हिसार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियां जरूर भाजपा के लिए फायदेमंद रहीं. Also Read - 25,500 से ज्यादा तबलीगी जमात के सदस्य क्वारंटाइन में रखे गए, हरियाणा के 5 गांव सील: गृह मंत्रालय

(इनपुट आईएएनएस)