नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक वर्ष पूरा होने पर देशवासियों के नाम शनिवार को एक खुला पत्र लिखा. इसमें उन्होंने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में देशवासियों से आने वाले दिनों में भी ‘‘धैर्य और जीवटता’’ बनाए रखने का आह्वान किया और कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लम्बी लड़ाई में विजय के लिए सरकार के प्रत्येक दिशा निर्देश का पालन करना जरूरी है वरना जीवन में हो रही असुविधा, जीवन पर आफत के रूप में बदल सकती है. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने दूसरे कार्यकाल के लिए 30 मई 2019 को शपथ ली थी.Also Read - Coronavirus in India: पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 2.35 लाख नए मामले, 3.35 लाख लोग हुए रिकवर

पत्र में मोदी ने कोविड-19 के कारण लागू देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों, कारीगरों, छोटे उद्योगों, दुकानदारों, रेहड़ी पटरी पर ठेला लगाने वालों को हुई परेशानियों का जिक्र किया और कहा कि इनकी परेशानियां दूर करने के लिए सभी मिलकर प्रयास कर रहे हैं. Also Read - Haryana में कोरोना पाबंदियों में ढील, 50 फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे सिनेमाघर-मल्टीप्लेक्स; स्कूलों को लेकर यह हुआ फैसला

कोरोना वायरस के प्रति लोगों को सचेत करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमें यह भी ध्यान रखना है कि जीवन में हो रही असुविधा, जीवन पर आफत में न बदल जाए. इसके लिए प्रत्येक भारतीय के लिए हर दिशा-निर्देश का पालन करना बहुत आवश्यक है. जैसे अभी तक हमने धैर्य और जीवटता को बनाए रखा है, वैसे ही उसे आगे भी बनाए रखना है.’’ Also Read - Kevin Pietersen को मिला PM Modi का लेटर, गदगद होकर भारत को बताया 'वैश्विक शक्ति'

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता का आह्वान करते हुए मोदी ने कहा कि भारत आज अन्य देशों की तुलना में ज्यादा संभली हुई स्थिति में है. ये लड़ाई लंबी है लेकिन हम विजय पथ पर चल पड़े हैं और विजयी होना हम सबका सामूहिक संकल्प है.