नई दिल्ली: साल 1975 में आज ही के दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा देश में अपातकाल की घोषणा की गई थी. अपातकाल की बरसी पर भाजपा नेताओं द्वारा कांग्रेस व कांग्रेस की नीतियों की जमकर आलोचना की जा रही है. इसी कड़ी नमें पीएम नरेंद्र मोदी व देश के गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किए. पीएम नरेंद्र मोदी ने अपातकाल की बरसी पर ट्वीट करते हुए कहा कि #DarkDaysOfEmergenY को कभी भूला नहीं जा सकता है. 1975 से 1977 के कालखंड में संस्थाओं को निशाना बनाया गया. हम इस बात का प्रण करें कि भारत के लोकतंत्र को मजबूत रखेंगे. कांग्रेस ने देश की लोकतांत्रिक चरित्र को रौंदा है.Also Read - नरेंद्र मोदी ने भगवान शिव की तरह विषपान किया, 18-20 साल चुपचाप सहते रहे झूठे आरोप, गुजरात दंगों पर शाह ने तोड़ी चुप्पी

वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा 1975 में आज ही के दिन कांग्रेस ने सत्ता के स्वार्थ व अंहकार में देश पर आपातकाल थोपकर विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की हत्या कर दी. असंख्य सत्याग्रहियों को रातों रात जेल की कालकोठरी में कैदकर प्रेस पर ताले जड़ दिए. नागरिकों के मौलिक अधिकार छीनकर संसद व न्यायालय को मूकदर्शक बना दिया. Also Read - NDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने दाखिल किया नामांकन, देखें लाइव वीडियो

अमित शाह ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि एक परिवार के खिलाफ उठने वाले स्वरों को कुचलने के लिए थोपा गया आपातकाल आजाद भारत के इतिहास का एक काला अध्याय है. 21 महीने तक निर्दयी शासन की क्रूर यातनाएं झेलने वाले व देश के संविधान व लोकतंत्र की रक्षा के लिए निरंतर संघर्ष करने वाले सभी देशवासियो के त्याग व बलिदान को मेरा नमन. Also Read - राष्ट्रपति चुनाव 2022: राष्ट्रपति बनीं तो नया इतिहास रचेंगी द्रौपदी मुर्मू, नामांकन के बाद सोनिया,ममता, पवार से की बात