पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आज शाम पार्टी मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और संबोधित करेंगे. हरियाणा में चुनावी उलटफेर के बाद शाह पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर बातचीत करेंगे. दरअसल महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के लिए डाले गए मतों की गणना जारी है. हालांकि महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन फिर से सत्ता में लौटने की ओर बढ़ता दिख रहा है जबकि हरियाणा में भाजपा या कांग्रेस में से किसी को भी अभी तक बहुमत मिलता नहीं दिख रहा. हालांकि खबर लिखे जाने तक हरियाणा में बीजेपी और कांग्रेस में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है.


निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के अनुसार, महाराष्ट्र की कुल 288 विधानसभा सीटों में से भाजपा 101 सीटों पर आगे चल रही है और उसकी सहयोगी शिवसेना 64 सीटों पर आगे है. कांग्रेस को 40 सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी 50 सीटों पर आगे है. इसके अलावा 16 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार आगे हैं.

वहीं, हरियाणा में किसी दल को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं दिख रहा. भाजपा 38 सीटों पर आगे है जबकि कांग्रेस 29 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने पर दुष्यंत चौटाला सरकार बनाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं क्योंकि उनकी जननायक जनता पार्टी 11 सीटों पर आगे है. राज्य की 90 में से 89 सीटों के रुझान उपलब्ध हैं.