सात दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे कनाडाई प्रधानमंत्री जस्‍ट‍िन ट्रूडो ने आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. दोनों की मुलाकात राष्‍ट्रपति भवन में हुई. दोनों के बीच 45 मिनट तक वार्ता चली. इसमें दोनों देशों के बीच 6 समझौतों पर हस्‍ताक्षर हुए. बैठक के दौरान प्रमुख तौर पर आतंकवाद पीएम मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया और वार्ता खत्‍म होने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ‘हमारे देश की अखंडता को चुनौती देने वालों को बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा.’

पीएम मोदी ने जस्‍ट‍िन ट्रूडो से कहा कि आपके भारत आने की प्रतिक्षा काफी लंबे समय से थी. हमें खुशी है कि आप अपने परिवार के साथ भारत आए. पीएम ने कहा कि हमें इस बात की भी खुशी है कि आज की मुलाकात से पहले आपने भारत के विभिन्‍न शहरों का दौरा किया है. साल 2015 में मेरी कनाडाई यात्रा 42 वर्षों में किसी भारतीय पीएम की पहली द्वीपक्षीय यात्रा थी. वहां मुझे अपनापन मिला. मुझे विश्‍वास है कि कनाडाई पीएम को भी यहां उसी गर्मजोशी का एहसास हुआ होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि वार्ता के दौरान कई मुद्दों पर बात हुई. आतंकवाद और उग्रवाद हमारे जैसे देशों के लिए खतरा है और इन तत्वों से लड़ने के लिए हमारा साथ आना महत्‍वपूर्ण है. दोनों देशों को आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ने की जरूरत है. पीएम मोदी ने कहा कि आज की बैठक में हमने इस बात पर चर्चा की कि आपसी सहयोग कैसे बढ़ा सकते हैं. आतंकवाद और उग्रवाद के खिलाफ लड़ने के लिए दोनों देश सहमत हुए हैं.

यह भी पढ़ें : PM ने किया ट्रूडो फैमिली का स्वागतः बच्चों से किया नमस्ते, स्नेह से भरकर लगाया गले

हमारी आर्थिक साझेदारी के लिए एक संस्थागत ढांचे की व्यवस्था करना आवश्यक है. इस परिप्रेक्ष्य में द्विपक्षीय निवेश, प्रमोशन एग्रीमेंट और कॉम्प्रिहेंसिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप एग्रिमेंट को अंतिम रूप देने के लिए हमने अपने वार्ताकारों को प्रयास दोगुना करने का निर्देश दिया है.

इन 6 क्षेत्रों में हुआ समझौता
1. इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी और साइंस के क्षेत्र में
2. ऊर्जा एवं पेट्रोलियम के क्षेत्र में
3. स्‍पोट्स सेक्‍टर में
4. इंडस्‍ट्र‍ियल पॉलिसी में
5. हायर एजुकेशन के क्षेत्र में
6. एटॉमिक एनर्जी और नेचुरल रिसोर्सेज के क्षेत्र में

यह भी पढ़ेें: PM नरेंद्र मोदी से जस्टिन ट्रूडो की अहम मुलाकात, हैदराबाद हाउस में प्रतिनिधि स्तर की वार्ता

पीएम मोदी ने कहा कनाडा के साथ अपना स्‍ट्रैटजिक पार्टनरशिप को आगे बढ़ाने को भारत बहुत अधिक महत्‍व देता है. हमारे संबंध लोकतंत्र, बहूलवाद, कानून की सर्वोच्‍चता और आपसी संपर्क पर आधारित हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कनाडा भारतीय छात्रों के लिए महत्‍वपूर्ण स्‍थान है. कनाडा में भारत के 1 लाख 20 हजार से ज्‍यादा छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. हायर एजुकेशन के क्षेत्र में MoU को हमने रीन्‍यू किया है.

पीएम मोदी ने कहा कि कनाडा एनर्जी के क्षेत्र में सुपर-पावर है और वह हमारी बढ़ती ऊर्जा की मांग को पूरा कर सकता है.

पीएम मोदी ने किया गर्मजोशी से स्वागत
शुक्रवार को पीएम मोदी से मुलाकात के लिए जैसे ही जस्टिन ट्रूडो अपने परिवार के साथ राष्ट्रपति भवन पहुंचे तो उनका जोरदार स्वागत किया गया. पीएम मोदी ने ट्रूडो को गले लगाकर स्वागत किया. इसके साथ ही ट्रूडो की बेटी को पीएम मोदी ने गले लगया. इस दौरान ट्रूडो की बेटी और पीएम मोदी की ट्यूनिंग देखते ही बन रही थी.