File Photo (साभार- इंडियन एक्सप्रेस) Also Read - BJP executive meeting may result in disruption, competitive students ready to Protest |भाजपा की कार्यकारिणी बैठक में पड़ सकता है खलल, सरकार से भिड़ने को तैयार हैं प्रतियोगी छात्र

Also Read - BJP Vichar manthan will be started on tomorrow in Allahabad | यूपी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का विचार मंथन कल से इलाहाबाद में शुरू

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज रविवार से दो दिनों के लिए इलाहाबाद में शुरू हो रही है। इस बैठक में भाग लेने के लिए अब से कुछ ही देर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इलाहाबाद पहुँच जाएंगें। यहाँ वे दो दिन रुकेंगे। उनका पूरा प्लान निर्धारित कर लिया गया है। खबर है कि इन दो दिनों के लिए प्रधानमंत्री यहीं से काम-काज देखेंगे। कहा जा रहा है कि एक छोटे पीएमओ का सेट-अप भी इलाहाबाद में लगा दिया गया है। यह भी पढ़ेंः यूपी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का विचार मंथन कल से इलाहाबाद में शुरू

ऐसा रहेगा प्रधानमत्री का दो दिनों का कार्यक्रम

आज दोपहर करीब डेढ़ बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से इलाहाबाद के लिए रवाना होगे। इलाहाबाद के बमरौली हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री का स्वागत किया जाएगा। यहाँ से वे कार से कार्यक्रम स्थल पहुँचेंगे। कार्यक्रम के बाद 3 बजे होटल कान्हा श्याम पहुँचेंगे। होटल से निकल कर सीधे हाईकोर्ट जाएंगें और वहाँ एक कार्यक्रम में शामिल होंगे। करीब चार बजे हाईकोर्ट से निकलकर 4 बजे सर्किट हाउस पहुँचेंगे। सर्किट हाउस में कुछ देर विश्राम के बाद करीब पांच बजे सीधे केपी कॉलेज ग्राउंड पहुँचेंगे जहाँ भाजपा की कार्यकारिणी बैठक आयोजित होनी है। वहाँ रात आठ बजे निकलकर सीधे सर्किट हाउस पहुँचेंगे। यह भी पढ़ेंः यूपी चुनाव में राजनाथ सिंह को सौंपी जाएगी भाजपा की कमान, जल्द होगा ऐलान

अगले दिन 13 जून सोमवार को सुबह 10 बजे केपी कॉलेज ग्राउंड पहुँचेंगे जहाँ भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आयोजित की जानी है। यहाँ पूरे दिन करीब 4 तक मीटिंग में भाग लेंगे और उसके बाद शाम पाँच बजे परेड ग्राउंड में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। परेड ग्राउंड से सीधा बमरौली एअरपोर्ट जाएँगें जहाँ से करीब साढ़े 6 बजे वापस दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

प्रतियोगी छात्र और वकील कर सकते हैं विरोध

इलाहाबाद के प्रतियोगी छात्र और हाईकोर्ट के वकील प्रधानमंत्री का विरोध कर सकते हैं। दरअसल, प्रतियोगी छात्रों का आरोप है कि भाजपा के राजनाथ सिंह ने प्रतियोगी छात्रों से वादा किया था कि उनकी सरकार आने पर यूपीपीएससी की गड़बड़ी की सीबीआई जाँच कराई जाएगी। लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ। वहीं वकीलों की नाराजगी इस बात से है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि पश्चिमी यूपी में हाइकोर्ट की शाखा बनाई जाएगी। ये दोनो समूह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन का विरोध कर सकते हैं। यह भी पढ़ेंः  भाजपा की कार्यकारिणी बैठक में पड़ सकता है खलल, सरकार से भिड़ने को तैयार हैं प्रतियोगी छात्र