अलवर: केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार राजस्थान के अलवर में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘राजनीतिक असहिष्णुता’ का शिकार बनाया जा रहा है, फिर भी वह ‘समावेशी विकास’ के रास्ते पर आगे बढ़ रहे हैं. नकवी यहां प्रस्तावित एक अत्याधुनिक शिक्षण संस्थान की आधारशिला रखने आए थे.

विपक्ष पर हमला बोलते हुए नकवी ने कहा कि ‘भ्रष्टाचार का खात्मा’ और यूपीए के कार्यकाल की ‘असफलताओं के दागों’ को मिटाना एक मुश्किल काम है.

राफेल डील: PM मोदी का समर्थन नहीं किया, जब तक मेरे पास सबूत नहीं होगा आरोप नहीं लगाऊंगा: पवार

मंत्री नकवी ने कहा, “लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समाज के सभी धड़ों के विकास की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने की दिशा में सफलतापूर्वक आगे बढ़े हैं. वह बिना किसी भेदभाव के समावेशी विकास की प्रतिबद्धता के साथ काम कर रहे हैं. उन्होंने सरकार के निर्णय में वोट बैंक की राजनीति को हावी होने नहीं दिया है.”

राफेल पर शरद पवार के रुख से नाराज तारिक अनवर ने छोड़ी पार्टी, सांसद पद से भी दिया इस्तीफा

उन्होंने कहा, “मोदी सरकार ‘सभी जरूरतमंदों, गरीबों, और अल्पसंख्यक समुदायों के लिए सस्ती सुलभ व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा’ के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है.”

नकवी ने कहा, “संस्थान अलवर जिले के किशनगढ़ बास के कोहरापिपली गांव में बनेगा और यह पांच प्रस्तावित ‘विश्वस्तरीय’ शिक्षण संस्थानों में से पहला संस्थान होगा.”

विवेक हत्याकांड पर बोलीं मायावती- BJP सरकार में हो रहा सवर्णों का शोषण, खुलेआम हो रहीं हत्याएं

संस्थान अत्याधुनिक कौशल विकास केंद्र, प्राथमिक और उच्च शिक्षा के लिए शिक्षण सुविधाएं, आयुर्वेद व यूनानी विज्ञान और खेल सुविधाओं से युक्त होगा. अल्पसंख्यक मंत्रालय ने संस्थान में लड़कियों के लिए 40 प्रतिशत सीटें आरक्षित करने का प्रस्ताव रखा है.