नई दिल्ली: कोविड 19 फ्रंटलाइन वर्करों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा एक क्रैश कोर्स की शुरुआत की गई है. साथ ही पीएम मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर देश को तैयार रहने का संदेश दिया है. पीएम मोदी ने क्रैश कोर्स को लॉन्च करते हुए कहा कि 1 लाख वॉरियर्स को कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए तैयार किया जाएगा. पीएम मोदी ने क्रैश कोर्स करने वाले वारियर्स को शुभकामना दी.Also Read - सरकार ने जरूरी 5 मेडिकल उपकरणों पर व्यापार मार्जिन सीमित किया, करीब 620 प्रोडक्‍ट के दाम घटे

बता दें कि शुक्रवार के दिन नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से क्रैश कोर्स प्रोग्राम का शुभारंभ किया. इसकी शुरुआत पीएम कौशल विकास योजना 3.0 के तहत देशभर के 26 राज्यों में स्थित 111 प्रशिक्षण केंद्रों में की जाएगी. बता दें कि यह क्रैश कोर्स अगले 2-3 महीनों में पूरा हो जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि महामारी ने दुनिया के हर देश, हर संस्था, हर समाज और हर परिवार के सामर्थ्य को बार बार परखा है. Also Read - Rashtrapati Bhavan: एक अगस्त से आम लोगों के लिए खुल जाएगा राष्ट्रपति भवन, जानें टाइमिंग

उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ रही वर्तमान फोर्स को सपोर्ट करने के लिए देश में करीब 1 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है. बता दें कि यह कोर्स 2-3 महीने में पूरा हो जाएगा. गौरतलब है कि देश में कोरोना के मामलों में लगातार कमी आ रही है. वहीं मौत के आंकड़ों में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. लेकिन कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर सभी आशंकित है. इस कारण प्रशासन व सरकार द्वारा हर संभव प्रयास लगातार किए जा रहे हैं. Also Read - Tokyo Olympics 2020: टोक्यों ओलंपिक का हुआ आगाज, पीएम मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी शुभकामनाएं