नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स (Indian Chamber of Commerce) के कार्यक्रम से देश को संबोधित किया. जब से Unlock 1.0 की शुरुआत हुई है तब से यह पीएम मोदी (PM Narendra Modi) का यह पहला संबोधन है. इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने देश को कोरोना संकट से उबारने के लिए कई सुझाव दिए. पीएम ने कहा कि अब भारत को अपने पैरो पर खड़ा होना होगा और दूसरे देशों पर निर्भरता कम करनी होगी. Also Read - कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से किए 4 सवाल, कहा- क्या भारत के दावे को गलवान घाटी में कमजोर किया जा रहा है?

पीएम मोदी ने कहा कि अब देश को नए नए तरीके तलाशने होगे. पीएम मोदी  ने कहा कि भारत सरकार ने किसानों, छोटे उद्योगों आदि को बढ़ावा देने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि अब देश को आगे बढ़ाने के लिए  उद्योग जगत को आगे आना चाहिए. Also Read - काशीवासियों से बोले पीएम नरेंद्र मोदी- जो शहर दुनिया को गति देता हो, उसके आगे कोरोना क्या चीज है

पीएम मोदी ने कहा जहां एक तरफ देश कोरोना के संकट से जूझ रहा है वहीं दूसरी तरफ, बाढ़ , तूफान, टिड्डी की समस्या, आग की घटनाओं सहित कई बड़ी समस्याओं का नागिरक सामना कर रहे है. उन्होंने कहा कि संकट की घड़ी में देश की जनता ने बहुत ही धैर्य का प्रदर्शन किया है. Also Read - इस दक्षिण अफ्रीकी पेसर ने गेंद को चमकाने का बताया नया फॉर्मूला, ICC लार पर लगा चुकी है बैन

पीएम मोदी ने कहा, “कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई बड़ी है. हर देशवासी संकल्प से भरा है और इन संकल्प को पूरा करने में उद्योग जगत एक बहुत बड़ा योगदान दे सकते हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि आपदा को अवसर में बदलना है. आत्मनिर्भर बनाने का अवसर है. कोरोना संकट देश के लिए बड़ा मोड़ है. आत्मनिर्भर भारत अभियान को आगे लेकर जाना है. भारत को अपने पैरों पर खड़ा होना है. हार मानने वालों को मौके नहीं मिलते.” उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत की सबसे बड़ी ताकत आत्म निर्भर के विश्वास से भरे भारतीय हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि जब देश अपनी स्वत्ंत्रता के 75वीं साल गिरह मानाएगा तब तक भारत बहुत अधिक बदल चुका होगा. पीएम मोदी ने अपने संबोधन के आखिरी में कहा कि देश को आत्म निर्भर बनना ही होगा