नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ कर रहे हैं. पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना वायरस जैसी मुसीबत ने देश को एकजुट होकर कुछ करने का मौका दिया है.  पीएम मोदी ने कहा कि  आप भी कोविड वॉरियर्स डॉट जीओवी डॉन इन से जुड़कर देश की सेवा कर सकते हैं. तकनीक के क्षेत्र में काफी कुछ हो रहा है. ​इनोवेटर वाकई कुछ नया करने की कोशिश कर रहे हैं. Also Read - Coronavirus: PM मोदी ने कोविड-19 स्थिति पर इन 4 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे साथियों ने देश के भीतर ही 3 लाख किमी से अधिक हवाई उड़ान भरी है और 500 टन से अधिक सामग्री पहुंचाई है. भारतीय रेलवे 60 से अधिक मार्गों पर 100 से अधिक पार्सल ट्रेन चला रही है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों के अकाउंट में सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा रहे हैं. इसके लिए बैंकिंग सेक्टर के लोग दिन रात काम कर रहे हैं. राज्य सरकारें, स्थानीय प्रशासन कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बहुत बड़ी जिम्मेदारी निभा रहे हैं. Also Read - प्रधानमंत्री की आलोचना के लिए भाजपा नेताओं ने सोरेन को लिया आड़े हाथ, बोले- सामान्य शिष्टाचार की समझ नहीं

पीएम ने कहा कि अपनी चीजों को बांटकर दूसरे की जरूरत को पूरा करना ही तो संस्कृति है. पीएम मोदी ने ने कहा कि अपनी संस्कृति के अनुरूप ही भारत सरकार ने कुछ फैसले लिए. Also Read - ममता बनर्जी ने PM नरेंद्र मोदी को लिखा खत, कहा- ऑक्सीजन की आपूर्ति करें, वरना लोगों की चली जाएगी जान

पीएम ने कहा कि अपनी संस्कृति के अनुरूप ही भारत सरकार ने कुछ फैसले लिए. उन्होंने कहा कि अगर हम दवाई नहीं देते तो दुनिया में कोई भारत को दोष नहीं देता. लेकिन हमने अपनी संस्कृति के हिसाब से ही फैसला लिया. हमने दुनिया के तमाम देशों तक दवाइयों पहुंचाने का बीड़ा उठाया. दुनिया के तमाम राष्ट्रध्यक्ष- थैंक्यू इंडिया, थैंक्यू पीपल ऑफ इंडिया बोल रहे हैं.