PM Narendra Modi on Covid 19: देश में फैली महामारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कोरोना प्रभावित राज्यों और जिलों के जिलाधिकारियों और क्षेत्रीय अधिकारियों से बात की. पीएम मोदी ने 9 राज्यों के 46 जिलाधिकारियों से कोरोना महामारी पर नियंत्रण हेतु बात की और कोरोना से निपटने को लेकर सुझाव भी दिए. पीएम मोदी ने बातचीत में कहा कि हमारे देश में जितने जिले हैं उतनी ही अलग अलग चुनौतियां भी हैं. अपने जिलों को आपलोग अच्छी तरह समझते हैं. ऐसे में अगर आपका जिला जीतता है तो देश जीतेगा. पीएम मोदी ने जिलाधिकारियों को कोरोना के खिलाफ 3 सबसे बड़े हथियार भी बताए हैं. Also Read - जम्मू-कश्मीर पर पीएम मोदी की बैठक में शामिल होंगे गुपकार नेता, परसो दिल्ली में होगी मीटिंग

पीएम मोदी की कोरोना के खिलाफ हथियार Also Read - कोरोना की वैक्सीन से बांझपन और नपुंषकता का है खतरा? जानें क्या है वायरल दावे की सच्चाई

1- पीएम मोदी ने जिलाधिकारियों से बात करते हुए कोरोना के खिलाफ तीन सबसे बड़े हथियार बनाए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हमारे हथियार होंगे लोकल कंटेन्मेंट जोन, एग्रेसिव टेस्टिंग और लोगों को उचित जानकारी देना. जैसे- अस्पताल में कितने बेड्स मौजूद हैं. कलाबाजारी पर लगाम लगाई जाए. कलाबाजारी कर रहे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए. Also Read - Coronavirus Cases In India: 1 दिन में 42 हजार से अधिक लोग हुए कोरोना संक्रमण का शिकार, 1,167 लोगों की हुई मौत

2- पीएम मोदी ने जिलाधिकारियों से कहा कि कलाबाजारी पर लगाम लगाने की जरूरत है. साथ ही ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए. फ्रंटलाइन वर्कर्स के मनोबल को ऊंचा रखें और उन्हें एकत्र करें.

3- कोरोना को रोकने के लिए Testing, Tracking, Treatment पर बल देना होगा. तभी हें संक्रमण के स्केल के बारे में उचित जानकारी मिल पाएगी. साथ ही इन तीनों चीजों पर ज्यादा बल देना होगा.