नई दिल्‍ली: बीजेपी संस्‍थापकों में शुमार बुजुर्ग नेता लाल कृष्ण आडवाणी आज शुक्रवार को 92 साल के हो गए. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने सीनियर नेता के घर पहुंचकर उन्‍हें बधाई दी. पीएम मोदी ने आडवाणी को फूलों का गुलदस्‍ता भेंट किया है. पीएम ने आडवाणी के जन्‍मदिन पर अपने ट्व‍िटर हैंडल पर तीन ट्वीट कर उनके योगदान के बारे में जिक्र करते हुए उन्‍हें बधाई दी है.

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ”विद्वान, राजनेता और सबसे सम्मानित नेताओं में से एक, भारत हमेशा हमारे नागरिकों को सशक्त बनाने की दिशा में श्री लाल कृष्ण आडवाणी जी के असाधारण योगदान को संजोएगा. उनके जन्मदिन पर मैं आडवाणी जी का सम्मान करते हुए उनके लंबे और स्वस्थ जीवन के लिए प्रार्थना करता हूं.”

दूसरे ट्वीट में पीएम ने लिखा है, ”श्री लालकृष्ण आडवाणी जी दशकों तक बीजेपी को आकार और ताकत देने के लिए परिश्रम किया. यदि वर्षों में हमारी पार्टी भारतीय राजनीति के एक प्रमुख ध्रुव के रूप में उभरी है तो यह आडवाणी जी जैसे नेताओं के कारण है और निस्वार्थ कार्यकर्ताओं की वजह से है, जिसे उन्होंने दशकों तक तैयार किया.”

तीसरे ट्वीट में पीएम ने लिखा है, ‘आडवाणी जी के लिए सार्वजनिक सेवा हमेशा मूल्यों से जुड़ी रही है. एक बार भी उन्होंने कोर विचारधारा पर समझौता नहीं किया है. जब हमारे लोकतंत्र की रक्षा करने की बात आई, तो वह सबसे आगे थे. एक मंत्री के रूप में, उनके प्रशासनिक कौशल सार्वभौमिक रूप से प्रशंसित हैं.’

बता दें देश के अनुभवी राजनीतिज्ञों में शुमार लाल कृष्ण आडवाणी का जन्म 8 नवंबर 1927 को हुआ था. सिंध प्रांत (अब पाकिस्तान) के कराची शहर में एक सिंधी हिंदू परिवार में पैदा हुए लाल कृष्ण आडवाणी, अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में देश के गृह मंत्री और उप प्रधानमंत्री रहे हैं. आडवाणी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में 2002 से 2004 तक उपप्रधानमंत्री के रूप में सेवाएं दी थीं. उन्हें 2015 में देश से दूसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था.

पीएम नरेंद्र मोदी जब बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात करने पहुंचे तो उस वक्‍त साथ में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी उपस्थित थे. (एजेंसी- इनपुट)