नई दिल्ली. पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत देशभर के नेताओं ने गहरी शोक संवेदना जताई है. पीएम मोदी ने सुषमा स्वराज के निधन को जहां भारतीय राजनीति के गौरवशाली अध्याय का अंत बताया है, वहीं राहुल गांधी ने अपने शोक संदेश में पार्टी लाइन से इतर विपक्षी दलों के नेताओं से सुषमा स्वराज की मित्रता को याद किया है. इन दोनों के अलावा कई केंद्रीय मंत्रियों और विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी सुषमा स्वराज के निधन पर दुख व्यक्त किया है. आपको बता दें कि मंगलवार की देर रात भाजपा की नेता सुषमा स्वराज का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था. वह 67 साल की थीं. उन्होंने एम्स में आखिरी सांसें लीं.

पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन के बाद ट्वीट कर अपनी संवेदना प्रकट की. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘भारतीय राजनीति में एक गौरवशाली अध्याय का अंत हो गया. भारत एक असाधारण नेता के निधन से शोकसंतप्त है, जिन्होंने जनसेवा और निर्धनों के जीवन में सुधार के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया. सुषमा जी अपने आप में अलग थीं और करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणास्रोत थीं.’’ जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने और राज्य को दो केन्द्रशासित प्रदेशों में बांटने के सरकार के कदम से बेहद प्रसन्न स्वराज ने शाम के समय ट्वीट कर पीएम मोदी को बधाई दी थी.

सुषमा स्वराज: संसद में विपक्षी भी गौर से सुनते थे उनका भाषण, विदेश मंत्रालय में रहते हुए बनीं जनता की मंत्री

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अपनी पूर्व सहयोगी सुषमा स्वराज के निधन पर गहरी संवेदना जताई है. राजनाथ सिंह ने कहा कि वह बेहद मूल्यवान सहयोगी के असामयिक निधन से गहरे सदमे और दुख में हैं. स्वराज के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री के रूप में वह मंत्रालय की कार्यप्रणाली में एक नई तरह की संवेदनशीलता लेकर आईं. उन्होंने कहा कि वह ‘‘जन मंत्री’’ के रूप में जानी जाती थीं. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, ‘‘सुषमा स्वराज के निधन के बारे में सुनकर बेहद स्तब्ध हूं. इस खबर को स्वीकार करना मुश्किल है, पूरा देश शोकाकुल है और उससे भी ज्यादा विदेश मंत्रालय.’’ कांग्रेस पार्टी ने भी स्वराज के निधन पर दुख व्यक्त किया है. पार्टी ने कहा,‘‘सुषमा स्वराज के असामयिक निधन के बारे में सुनकर हम दुखी हैं. उनके परिवार और स्नेही जनों के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं.’’

सुषमा स्वराज के निधन पर बॉलीवुड भी दुखी, सोशल मीडिया पर कई हस्तियों ने दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘सुषमा स्वराज जी के निधन के बारे में सुनकर स्तब्ध हूं. वह एक अद्भुत नेता थीं जिनकी पार्टी लाइन से इतर मित्रता थी.’ उन्होंने कहा, ‘दुख की इस घड़ी में उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदना है. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें. ऊं शांति.’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ममता बनर्जी ने मंगलवार रात पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया. बनर्जी ने स्वराज को एक उत्कृष्ट राजनीतिज्ञ, एक अच्छा इंसान बताया और कहा कि उनके साथ उन्होंने ‘‘संसद में कई अच्छे पल बिताए.’’ ममता ने अपने टि्वटर हैंडल पर लिखा, ‘‘सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख हुआ, 1990 के दशक से ही मैं उन्हें जानती थी. भले ही हमारी विचारधाराएं भिन्न थीं, हमने संसद में कई सौहार्दपूर्ण पल साझा किए. एक उत्कृष्ट राजनेता, अच्छी इंसान. उनकी कमी खलेगी.

यादों में सुषमाः यहां देखिए जीवन सफर की कुछ अनमोल तस्वीरें…..

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने भी पूर्व विदेश मंत्री एवं भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है. विजयन ने सांसद और विदेश मंत्री के तौर पर इस लोकप्रिय नेता के योगदान की सराहना की. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने ट्वीट कर अपनी संवेदना प्रकट की. उन्होंने कहा, ‘‘पूर्व केंद्रीय मंत्री, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री सुषमा स्वराज जी के निधन से गहरा दुख हुआ है. हमारे राष्ट्र को नुकसान हुआ है. ईश्वर उनके परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति दें.’’

निधन से पहले सुषमा ने हरीश साल्वे से की अंतिम बातचीत, कहा- ले जाओ अपना 1 रूपया

निधन से पहले सुषमा ने हरीश साल्वे से की अंतिम बातचीत, कहा- ले जाओ अपना 1 रूपया

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने स्वराज के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्र ने आज सबसे मजबूत नेताओं में से एक और भारत के सबसे अच्छे प्रवक्ताओं में से एक को खो दिया है. विदेश मंत्री के रूप में उनका काम शानदार रहा और एक राजनीतिज्ञ के रूप में उन्होंने कई महिलाओं को राजनीति में प्रवेश करने के लिए प्रेरित किया. उनकी आत्मा को शांति मिले. ऊं शांति.’’

भाजपा के विभिन्न नेताओं ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर दुख व्यक्त किया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि स्वराज ने राष्ट्रीय राजनीति में एक अमिट छाप छोड़ी और उनका निधन एक बहुत बड़ा नुकसान है. वहीं, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि स्वराज एक आदर्श व्यक्तित्व का उदाहरण थीं, चाहे विपक्ष के नेता तौर पर या फिर विदेश मंत्री के रूप में. उन्होंने कहा कि देश उनके शानदार व्यक्तित्व को हमेशा याद रखेगा और उनका निधन देश तथा भाजपा के लिए एक अपूरणीय क्षति है. वरिष्ठ भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने भी स्वराज के निधन पर शोक व्यक्त किया और कहा कि वह आम आदमी को विदेश मंत्रालय से जोड़ने वाली असाधारण हस्ती थीं. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी स्वराज के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है.

(इनपुट- एजेंसी)