नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय बजट को ‘‘देश को समृद्ध और जन-जन को समर्थ’’ बनाने वाला करार दिया और कहा कि इस बजट में आर्थिक सुधार, नागरिकों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के साथ गांव एवं गरीब का कल्याण भी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शुक्रवार को लोकसभा में आम बजट प्रस्ताव पेश किये जाने के बाद प्रधानमंत्री ने अपनी पहली प्रतिक्रिया में कहा, ‘‘इस बजट से गरीब को बल मिलेगा और युवाओं को बेहतर कल मिलेगा. इस बजट के माध्यम से मध्यम वर्ग को प्रगति मिलेगी. विकास की रफ्तार को गति मिलेगी.’’

महिलाओं, छात्रों से लेकर व्यापारियों तक के लिए… जानें मोदी सरकार के आम बजट की 20 अहम बातें

पीएम मोदी ने कहा कि यह बजट उद्यमियों और उद्यमों को मजबूत बनाएगा तथा देश में महिलाओं की भागीदारी को और बढ़ाएगा. मोदी ने कहा कि इस बजट में आर्थिक जगत का सुधार हैं. आम नागरिक की जीवन को और बेहतर बनाना भी है और साथ ही गांव और गरीब का कल्याण भी है.

उन्होंने कहा, ‘‘ये देश को समृद्ध और जन-जन को समर्थ बनाने वाला बजट है.’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि आज लोगों के जीवन में नयी आकांक्षाएं और अपेक्षाएं हैं. ये बजट देश को विश्वास दे रहा है कि इन्हें पूरा किया जा रहा है. ‘‘ये विश्वास दे रहा है कि दिशा सही है, प्रोसेस ठीक है, गति सही है इसलिए लक्ष्य तक पहुंचना तय है.’’ उन्होंने कहा कि इस बजट से कर व्यवस्था में सरलीकरण होगा. साथ ही आधारभूत ढांचा का आधुनिकीकरण होगा.

कांग्रेस ने कहा- नई बोतल में पुरानी शराब जैसा है मोदी सरकार का बजट, कुछ भी नया नहीं

पीएम ने कहा, ‘‘ये एक ग्रीन बजट है जिसमें पर्यावरण, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और सौर क्षेत्र पर विशेष बल दिया गया है.’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले पांच साल में देश निराशा के वातावरण को पीछे छोड़ चुका है. आज देश उम्मीदों और आत्मविश्वास से भरा हुआ है.

‘बहीखाता’ से टूटी ब्रीफकेस लाने की परंपरा, वित्तमंत्री बेटी का बजट भाषण सुनने पहुंचे माता-पिता

गरीबों के कल्याण की अपनी सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए मोदी ने कहा कि सरकार ने गरीब-किसान-दलित-पीड़ित-शोषित-वंचित को सशक्त करने के लिए, सशक्त करने के लिए चौतरफा कदम उठाए. उन्होंने कहा कि अब अगले पांच वर्षों में यही सशक्तिकरण उन्हें देश के विकास का ‘‘पावरहाउस‘‘ बनाएगा. ‘‘पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के सपने को पूरा करने की ऊर्जा देश को इसी पावरहाउस से मिलेगी.’’