गुवाहाटी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए चार जनवरी को असम के सिलचर में एक रैली को संबोधित कर चुनावी बिगुल फूकेंगे. भाजपा की असम इकाई के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘सिलचर की रैली प्रधानमंत्री के पूरे देश में होने वाले चुनाव अभियान के पहले चरण का हिस्सा होगी.’

सभी कंप्यूटरों की निगरानी संबंधी आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती, जनहित याचिका दायर

भाजपा पूर्वोत्तर में मिजोरम को छोड़कर या तो सत्ता में है या फिर सत्ता में मौजूद अन्य पार्टियों का सहयोग कर रही है. भाजपा यहां की 25 लोकसभा सीटों में से 21 पर जीत दर्ज करना चाहती है. असम में, पार्टी लोकसभा की 14 में से कम से कम 11 सीटों पर जीत दर्ज करना चाहती है. लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए, दास ने कहा कि पार्टी ने अभी तक जमीनी स्तर पर काम करने वाले 1.80 लाख कार्यकर्ताओं को नियुक्त किया है. इन्हें ‘पृष्ठ प्रमुख’ कहा जाता है.

पीएम मोदी का ओडिशा सरकार पर हमला, कहा- यहां भ्रष्टाचार का राक्षस मजबूत कैसे, कौन दे रहा खाद-पानी

उन्होंने कहा कि 15 जनवरी तक पार्टी के संगठनात्मक आधार को मजबूती देने के लिए 3.30 लाख पृष्ठ प्रमुखों को नियुक्त किया जाएगा. असम गण परिषद(अगप) के साथ गठबंधन जारी रखने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘गठबंधन 2016 में केंद्रीय नेतृत्व ने किया था और केंद्रीय नेतृत्व ही यह निर्णय लेगा कि अगप के साथ गठबंधन जारी रखा जाए या नहीं.’