नई दिल्ली: विजयदशमी (Vijayadashmi 2021) के मौके पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज नई सात सरकारी रक्षा कंपनियों की शुरुआत की है. रक्षा मंत्रालय की ओर से आज आयोजित होने वाले समारोह में पीएम मोदी वर्चुअली मौजूद रहे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए. सात नई रक्षा कंपनियों की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत नए भविष्य के निर्माण के लिए नए संकल्प ले रहा है. इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत को हम दुनिया की सबसे बड़ी सैन्य शक्ति बनाएंगे.Also Read - Parliament Winter Session: पीएम मोदी ने कहा- सरकार संसद में खुली चर्चा को तैयार, देश की तरक्की के लिए रास्ते खोजे जाएं

सात सरकारी रक्षा कम्पनियों संबंधी एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज रक्षा क्षेत्र में पहले से कहीं अधिक पारदर्शिता एवं विश्वास है. पीएम मोदी ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में कई प्रमुख सुधार किए गए, अटकाने – लटकाने वाली नीतियों के बजाय ‘एकल खिड़की प्रणाली’ की व्यवस्था की गई. Also Read - Mann Ki Baat on Music Apps: अब अमेज़न म्यूजिक, विंक, हंगामा पर भी सुनें PM मोदी की Mann Ki Baat, ये है मकसद

पीएम मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत देश को अपने दम पर दुनिया की सबसे बड़ी सैन्य शक्ति बनाने का लक्ष्य है. पिछले सात वर्षों में भारत ने ‘मेक इन इंडिया’ के मंत्र के साथ आधुनिक सैन्य उद्योग बनाने के लिए काम किया. Also Read - रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 6 दिसंबर को भारत आएंगे, प्रधानमंत्री मोदी के साथ शिखर बैठक में करेंगे शिरकत

ये हैं सात कंपनियां, जिनकी पीएम मोदी ने की शुरुआत
1. म्यूनिशंस इंडिया लिमिटेड (Munitions India Limited)
2. आर्मर्ड व्हीकल्स निगम लिमिटेड (Armored Vehicles Corporation Limited)
3. एडवांस्ड वेपन्स एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड (Advanced Weapons and Equipment India Limited)
4. ट्रूप कम्फर्ट्स लिमिटेड (Troop Comforts Limited)
5. यंत्र इंडिया लिमिटेड (Yantra India Limited)
6. इंडिया ऑप्टेल लिमिटेड (India Optel Limited)
7. ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड (Gliders India Limited)