गुवाहाटी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में बाढ़ और कोरोना के हालात का जायजा लेने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को फोन किया. इस दौरान उन्होंने बागजान तेल कुंआ में लगी आग के बारे में भी जानकारी ली. असम में रविवार को बाढ़ की स्थिति में हालांकि थोड़ा सुधार आया, बावजूद पांच लोगों की मौत हो गई, जिससे यहां बाढ़ से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 84 हो गई. वहीं 33 जिलों में से 24 जिलों के 25.30 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. Also Read - कोरोना महामारी के बीच चुनाव आयोग ने ‘अपने भरोसे के दम’ पर बिहार चुनाव कराया : अरोड़ा

सोनोवाल ने ट्वीट किया, “उन्होंने अपनी चिंता व्यक्त की और लोगों के साथ एकजुटता दिखाई. प्रधानमंत्री ने राज्य को हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया.” प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा बाढ़ प्रभावित लोगों व कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी ली. Also Read - कमाल: कोविड-19 संक्रमित महिला ने जुड़वां बच्चों को दिया जन्म, कई वर्षों से थी नि:संतान

एक अधिकारी ने कहा कि बातचीत के दौरान, मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को बताया कि बाढ़ से 24 जिले प्रभावित हुए हैं और राज्य सरकार बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत शिविरों में रख रही है और उन शिविरों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का ख्याल रखा जा रहा है.
बता दें कि बाढ़ के कारण अबतक 25 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. Also Read - DGCA ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर अगले महीने तक लगाई रोक