नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को रमजान की शुभकामनाएं दी और कोविड-19 की स्थिति एवं इस महामारी से मुकाबले के लिए दोनों देशों के बीच सहयोग के मुद्दे पर चर्चा की. पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री शेख हसीना से बात की और उन्हें एवं बांग्लादेश के लोगों को रमजान के पवित्र महीने पर शुभकामनाएं दी.’’ उन्होंने कहा कि हमने कोविड-19 की स्थिति के साथ साथ इस बारे में भी चर्चा की कि भारत एवं बांग्लादेश इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में किस प्रकार से सहयोग कर सकते हैं. Also Read - मध्य प्रदेश: कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 8,283 तक पहुंचा, 385 में सबसे ज्यादा मौतें इंदौर में

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘बांग्लादेश के साथ हमारे संबंध हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता में बने रहेंगे.’’ गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न चुनौतियों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले कुछ समय से दुनिया के विभिन्न देशों के शासनाध्यक्षों के साथ इस संकट और इससे निपटने के उपायों पर चर्चा कर रहे हैं. Also Read - लॉकडाउन के चलते इस राज्य के मंदिरों को हुआ 600 करोड़ का नुकसान, सालाना आय में आई बड़ी कमी

बाद में जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर क्षेत्रीय स्थिति पर चर्चा की और एक दूसरे को अपने-अपने देशों में इसके प्रभावों को कम करने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में जानकारी दी. बता दें कि बांग्लादेश भी कोरोना वायरस से जूझ रहा है. और सब कुछ ठप है. भारत में तीन मई तक लॉकडाउन है, जिसे बढ़ाया भी जा सकता है. लॉकडाउन 24 मार्च से चल रहा है. भारत में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. यहाँ संक्रमितों की संख्या 31 हज़ार से अधिक हो गई है. जबकि मरने वालों की संख्या एक हज़ार से अधिक हो गई है. Also Read - कोरोना: दिल्ली में संक्रमण के मामले 20 हज़ार पार, मरने वालों की संख्या भी 500 से ज्यादा