नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर उत्पन्न हो रही स्थिति और इससे निपटने के लिए किये जा रहे प्रयासों को लेकर आज रात देश को संबोधित करेंगे. यह जानकारी प्रधानमंत्री कार्यालय ने बुधवार को दी. पीएमओ ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 19 मार्च 2020 को रात आठ बजे देश को संबोधित करेंगे जिसमें वह कोरोना वायरस को लेकर मुद्दों और इससे निपटने को लेकर प्रयासों पर बात करेंगे. Also Read - कोरोना के कारण मजदूरों का पलायन: कोर्ट ने तलब की रिपोर्ट, डर दहशत को बताया वायरस से भी बड़ी समस्या

  Also Read - Covid-19: निजामुद्दीन के मरकज में सैंकड़ों कोरोना संदिग्ध, दिल्ली सरकार ने दिया मौलाना पर FIR दर्ज करने का आदेश

एक अन्य ट्वीट में पीएमओ ने कहा कि मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी प्रयासों की समीक्षा करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की. इसमें कहा गया कि भारत की तैयारियों को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की गई. बता दें कि देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस संक्रमण के 14 और मामले सामने आने के बाद बुधवार को इस घातक विषाणु से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 151 हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इन मामलों में दिल्ली, कर्नाटक और महाराष्ट्र में जान गंवाने वाले तीन लोग और 25 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं. 25 विदेशी नागरिकों के मामलों में से इटली से 17, फिलीपीन्स के तीन, कनाडा, ब्रिटेन, इंडोनेशिया और सिंगापुर से एक-एक मामला है.

देश में अब तक तीन लोगों की मौत, 151 आए चपेट में
स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि कोविड 2019 के पूरे भारत में अब तक इससे संक्रमित 134 लोगों का इलाज चल रहा है. उन्होंने बताया कि 14 अन्य ठीक हो गये है या उन्हें छुट्टी दे दी गई है जबकि तीन लोगों की मौत हो गई है. अधिकारी ने बताया कि संक्रमित लोगों के संपर्क में आए 5,700 से अधिक लोगों पर निकटता से नजर रखी जा रही है. दिल्ली में संक्रमण के अब तक 10 मामले सामने आए हैं जिनमें एक विदेशी शामिल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 16 मामले दर्ज किए गए हैं. महाराष्ट्र में तीन विदेशियों समेत 42 मामले सामने आए हैं जबकि केरल में दो विदेशी नागरिकों समेत 27 मामले दर्ज किए गए हैं. कर्नाटक में कोरोना वायरस के 11 मरीज हैं. लद्दाख में संक्रमण के मामले बढ़कर आठ हो गए हैं और जम्मू-कश्मीर में इसकी संख्या बढ़कर तीन हो गई है. तेलंगाना में दो विदेशियों समेत छह मामले सामने आए हैं. राजस्थान में दो विदेशियों समेत चार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, उत्तराखंड और पंजाब में एक-एक मामला सामने आया है. हरियाणा में 14 विदेशियों समेत 17 लोग संक्रमित हैं.

अभी तक 14 लोगों को अस्पताल से छुट्टी
मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अभी तक 14 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है. इन मरीजों में केरल के वे तीन मरीज भी शामिल हैं जिन्हें पिछले महीने अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. इस वायरस के कारण तीन लोगों की मौत हो गई है. हाल में मुंबई की 64 वर्षीय महिला की मंगलवार को मौत हुई थी. वह दुबई से लौटी थी. इससे पहले, पिछले मंगलवार को कलबुर्गी के 76 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई थी, जो सऊदी अरब से लौटा था. दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में शुक्रवार रात को एक महिला की मौत हो गई थी. एक अतिरिक्त यात्रा परामर्श के अनुसार सरकार ने अफगानिस्तान, फिलीपीन और मलेशिया से यात्रियों के भारत में प्रवेश पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है.

सरकार ने उठाए कड़े कदम
यह निर्देश अस्थायी रूप से लागू किया गया है और यह 31 मार्च तक लागू रहेगा. इसकी बाद में समीक्षा की जाएगी. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने 18 मार्च से 31 मार्च के बीच यूरोपीय संघ के देशों, तुर्की और ब्रिटेन के यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि सरकार ने एक निवारण रणनीति के तहत कई कदम भी उठाये है. उन्होंने कहा कि इन कदमों में सभी शैक्षणिक संस्थानों-स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों, जिम, संग्रहालयों, सांस्कृतिक और सामाजिक केंद्रों, स्विमिंग पूलों और रंगमंचों को बंद किया जाना शामिल है. अधिकारी ने कहा कि छात्रों को अपने घरों में ही रहने की सलाह दी गई है और ऑनलाइन शिक्षा को बढ़ावा दिया जा रहा है.