नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल मंगलवार को एक बार फिर देश को संबोधित करेंगे. माना जा रहा है कि पीएम मोदी कल के संबोधन में लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला ले सकते हैं. दो दिन पहले मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में सभी राज्यों ने पीएम से लॉकडाउन बढ़ाने की बात कही थी तभी से माना जा रहा था कि अप्रैल माह के अंत तक इसे बढ़ाया जाएगा लेकिन इसको लेकर कोई औपचारिक घोषणा नहीं की गई थी. Also Read - Viral Video: महिला ने नहीं पहना मास्क, थूकने की कोशिश की, प्लेन से जबरन उतारा गया...

आपको बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए पीएम मोदी ने 24 मार्च को 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की थी, जिसकी अवधि कल समाप्त हो रही है. अब ऐसे में लगातार यह कयास लगाए जा रहे हैं कि पीएम क्या इसे आगे बढ़ाएंगे या फिर कुछ रियायतों के साथ लॉकडाउन में ठील बरती जाएगी. Also Read - Covid 19 in India Update: कोरोना से 24 घंटे में 717 लोगों की मौत, 54 हजार नए मामले आए सामने

इसी बीच प्रधानमंत्री ने देश की आर्थिक हालात को देखते हुए सभी केंद्रीय मंत्रियों से मंत्रालयों का काम फिर से शुरू करने को कहा है. इसके अलावा देश की 15  इंडस्ट्रीज भी एक बार फिर से अपना काम शुरू करेंगी. पीएम के निर्देश के बाद आज कई मंत्रियों ने ऑफिस पहुंच कर काम संभाल लिया है.

जान भी जहान भी की रणनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा था कि तीन हफ्ते पहले हमने जान है तो जहान का संदेश दिया था. इस बार जान और जहान दोनों की चिंता करनी जरूरी है. माना जा रहा है कि नई रणनीति के तहत लॉकडाउन पार्ट 2 की प्रधानमंत्री घोषणा करेंगे. लॉकडाउन पार्ट 2 में सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने की शर्तो के साथ कल-कारखानों को चलाने की छूट मिल सकती है ताकि अर्थव्यवस्था को कुछ रफ्तार दिया जा सका.

प्रधानमंत्री मोदी के निर्देश पर सोमवार से मंत्रालयों में फिर से मंत्री और उच्चस्तरीय अफसर बैठने लगे हैं. इससे संकेत मिल रहे हैं कि लॉकडाउन पार्ट 2 की घोषणा के दौरान वर्क फ्राम होम की जगह सरकारी कार्यालयों से ही कुछ शर्तो के साथ कामकाज शुरू करने को हरी झंडी दी जाएगी.