नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी अगले लोकसभा चुनावों से पहले ज्यादातर लोकसभा क्षेत्रों के बीजेपी कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे. भाजपा कार्यकर्ताओं से संवाद के लिए मोदी अपने ऐप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. सूत्रों ने यह जानकारी दी. मोदी सोशल मीडिया के जरिए बीजेपी कार्यकर्ताओं से मुखातिब होने की तैयारी ऐसे समय में कर रहे हैं, जब पार्टी पहले ही यह सुनिश्चित करने के लिए जोर लगा रही है कि अगले लोकसभा चुनावों से पहले उसके सबसे लोकप्रिय नेता देश के सभी 543 लोकसभा क्षेत्रों का दौरा कर लें. Also Read - जिस सशक्त भारत की कल्पना नेताजी ने की थी आज देश उसी नक्शे कदम पर चल रहा है: पीएम मोदी

Also Read - ममता बनर्जी के लिए ‘जय श्री राम’ का नारा, सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान है : अनिल विज

बीजेपी ने कहा कि अपनी सरकार और पार्टी के कार्यक्रमों के तहत मोदी मई 2014 में सत्ता पर काबिज होने के बाद से अब तक 300 से ज्यादा संसदीय क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं. Also Read - नए साल में पहली बार असम पहुंचे पीएम मोदी, भूमिहीन मूल निवासियों के लिए जमीन के पट्टों का किया वितरण

 ओबीसी सम्मेलन में अमित शाह ने कहा, बीजेपी पर कभी किसी समाज का ठप्पा नहीं लगा

पार्टी सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री से सीधा संवाद कार्यकर्ताओं के लिए बहुत प्रेरणादायी साबित होगा और इससे उनमें चुनाव अभियान में दमखम के साथ उतरने के लिए जरूरी नई ऊर्जा का संचार हो सकता है.

राजस्थान में पहुंचते ही BJP प्रेसिडेंट शाह ने किया हमला, बोले – कांग्रेस देश में घुसपैठ जारी रखना चाहती है 

बीजेपी का मानना है कि उसकी सांगठनिक क्षमता उसे अपने प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में लाभ की स्थिति में लाती है. विपक्षी दलों के पास क्षेत्रीय स्तर पर तो नेता हैं, लेकिन चुनाव अभियान संचालित करने में काफी अच्छी तरह प्रशिक्षित भाजपा के कार्यकर्ताओं से मुकाबला करने में उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

सूत्रों ने बताया कि मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जैसे शीर्ष नेताओं से लगातार संवाद से सांगठनिक कार्य में काफी मदद मिल सकती है. मोदी ने पिछले गुरुवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद के दौरान ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ का मंत्र दिया था. ‘नमो ऐप’ के जरिए संवाद में भी उन्होंने कहा था कि बीजेपी के पक्ष में माहौल 2014 से कहीं बेहतर है.