Corona vaccine in India Latest Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को भारत में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine in India) की प्रगति की समीक्षा करने के लिए तीन शहरों में जाएंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय ने इसकी जानकारी दी. Also Read - COVID-19 vaccination in India: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू, लगभग दो लाख कोरोना योद्धाओं को दी गई पहली खुराक; बड़ी बातें

पीएमओ ने ट्वीट कर कहा, “कल पीएम मोदी वैक्सीन के विकास और विनिर्माण प्रक्रिया की व्यक्तिगत समीक्षा करने के लिए 3 शहर की यात्रा पर जाएंगे. वह अहमदाबाद में Zydus Biotech Park, हैदराबाद में Bharat Biotech और पुणे में Serum Institute of India का दौरा करेंगे.” Also Read - दिल्ली: कोरोना टीका लगवाने के बाद 52 स्वास्थ्यकर्मियों में दिखा प्रतिकूल प्रभाव, एक अस्पताल में भर्ती

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि भारत COVID-19 के खिलाफ लड़ाई के निर्णायक चरण में प्रवेश कर चुका है. पीएमओ ने कहा कि इसी को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी इन फैसिलिटीज में जाएंगे और वैज्ञानिकों के साथ चर्चा करेंगे जिससे उन्हें अपने नागरिकों को टीकाकरण करने के लिए भारत के प्रयासों की तैयारियों, चुनौतियों और रोडमैप का पहला दृष्टिकोण प्राप्त करने में मदद मिलेगी.” Also Read - PM Modi Announced Startup Fund: देश में स्टार्ट-अप को मिलेगा बढ़ावा, PM मोदी ने की 1,000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा

इससे पहले गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अहमदाबाद के पास प्रमुख दवा कम्पनी ‘जाइडस कैडला’ के संयंत्र का शनिवार को दौरा करेंगे और वहां विकसित किए जा रहे कोविड-19 के टीके बारे में जानकारी हासिल करेंगे. ‘जाइडस कैडला’ का संयंत्र अहमदाबाद शहर के पास चांगोदर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित है.

दवा बनाने वाली कंपनी ने पहले घोषणा की थी कि कोविड-19 के संभावित टीके का प्रथम चरण का परीक्षण पूरा हो गया है और दूसरे चरण का परीक्षण अगस्त में शुरू किया गया था. पटेल ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को गुजरात के दौरे पर आएंगे, वह ‘जाइडस कैडला’ द्वारा विकसित किए जा रहे कोविड-19 के टीके के बारे में जानकारी हासिल करेंगे.’’

एक अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री सुबह करीब साढ़े नौ बजे संयंत्र पहुंच सकते हैं. मोदी के अहमदाबाद के बाद, पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) का दौरा करने की उम्मीद है, जिसने कोविड-19 का टीका विकसित करने के लिए मशहूर दवा कम्पनी ‘एस्ट्राजेनेका’ और ‘ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी’ के साथ भागीदारी की है.