नई दिल्ली: चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीयों को सुरक्षित निकालने वाले 6 डॉक्टरों, 4 नर्सिग ऑफिसरों और एयर इंडिया के 68 कर्मचारियों को प्रधानमंत्री की ओर से प्रशंसापत्र सौंपा गया है. वुहान चीन का वह शहर है, जहां से पूरे चीन में कोरोनावायरस का संक्रमण फैला है. चीन में इस संक्रमण से चीन में अभी तक 17 सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और 70 हजार से अधिक लोग इस संक्रमण से प्रभावित हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने डॉक्टरों व नर्सिग ऑफिसरों को और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने एयरइंडिया के स्टाफ को प्रधानमंत्री मोदी की ओर से लिखा गया प्रशंसापत्र सौंपा.Also Read - केंद्र ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए राज्यों को 1828 करोड़ रुपये दिए

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने इस अभियान में टीम भावना के साथ किए गए प्रयासों की सराहना करते हुए कहा, “एयर इंडिया की टीम ने महामारी से प्रभावित वुहान शहर की विषम परिस्थितियों के बावजूद अपने देशवासियों को स्वेदश लाने के लिए जिस समर्पण भाव के साथ काम किया है उसपर हमें गर्व है. इस ऐतिहासिक अभियान का हिस्सा बने लोगों को प्रधानमंत्री की ओर से दिया गया प्रशंसापत्र सौंपने में गर्व महूसस हो रहा है.” उन्होंने कहा, “मैं इन सभी लोगों को राष्ट्र सेवा के उनके इस कार्य के लिए तहे दिल से धन्यवाद देता हूं.” Also Read - PM Modi Samwad: जब पीएम मोदी ने पूछा-डेंटिस्ट से IPS क्यों बनी? महिला ट्रेनी अफसर ने दिया मजेदार जवाब, जानिए

Also Read - COVID19 Cases Update: देश में लगतार चौथे दिन कोरोना के सक्रिय मरीज बढ़े, आज 41,649 नए केस दर्ज हुए

एयर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक राजीव बंसल, पूर्व अध्यक्ष, प्रबंधक निदेशक अश्विनी लोहानी सहित मंत्रालय के कई वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे. चीन में नोवेल कोरोना वायरस के प्रमुख केंद्र वुहान शहर से कुल 647 भारतीयों और मालदीव के सात नागरिकों को निकाला गया था.

एयर इंडिया के चालक दल द्वारा वुहान शहर में एक आपातकालीन निकासी अभियान चलाया गया था और गंभीर परिस्थितियों से अवगत होने के बावजूद 31 जनवरी, 2020 और 1 फरवरी, 2020 को लगातार दो दिन 423 सीटों वाले बी-747 विमान वहां भेजे थे.

इस अभियान का नेतृत्व एयर इंडिया के 68 सदस्यों के साथ कैप्टन अमिताभ सिंह ने किया था. सिंह इस अभियान के परिचालन निदेशक थे. वुहान भेजी गई एयर इंडिया की टीम में 8 पायलट, चालक दल के 30 सदस्य, 10 वाणिज्यिक कर्मचारी और एक वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे. एयर इंडिया के इस साहससिक कार्य की दुनियाभर के लोगों ने सराहना की है.

चीन के वुहान शहर जाकर वहां से भारतीय नागरिकों को सुरक्षित स्वदेश लाने वाले राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टर आंनद विशाल, पुलिन गुप्ता, योगेश चंद्रा, रूपाली मलिक, सुजाता आर्या और डॉ. संजीत पानेसर को प्रधानमंत्री की ओर से प्रशंसापत्र डॉ. हर्ष वर्धन ने सौंपा. हर्ष वर्धन ने इस मिशन में शामिल रहे सफदरजंग के नर्सिग ऑफिसर मनु जोसफ, रजनीश कुमार, आजो जोस और सारथ प्रेम को भी प्रधानमंत्री का पत्र देकर सम्मानित किया.

(इनपुट आईएएनएस)