महाराष्ट्र: पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (PMC) बैंक जमाकर्ताओं ने मुंबई में शनिवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन में पीएमसी (PMC) बैंक के जमाकर्ताओं के साथ विरोध करने वाली एक बुजुर्ग महिला आज बीमार पड़ गई. बाद में उसे पुलिसकर्मियों और अन्य जमाकर्ताओं ने मदद की.


बता दें कि 23 सितंबर को घोटाला सामने आने के बाद आरबीआई ने पीएमसी बैंक पर व्यापक प्रतिबंध लगाए थे और लोगों को शुरू में एक हजार रुपये से अधिक की निकासी पर रोक लगा दी थी. इसे बाद में बढ़ाकर 25 हजार रुपये और सोमवार (14 अक्टूबर) को बढ़ाकर 40 हजार रुपये किया गया है. नकदी निकासी की सीमा निर्धारित होने से त्योहारी सीजन आने के बाद लोगों को और अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

पीएमसी बैंक घोटाला की वजह से अपने पैसे को न निकाल पाने की वजह से एक और 83 वर्षीय जमाकर्ता की शुक्रवार को मुंबई में मौत हो गई थी. वहीं जमाकर्ता मुरलीधर धर्रा के परिवारवालों ने आरोप लगाया था कि उनकी मृत्यु सिर्फ इस वजह से हो गई क्योंकि वे गंभीर सर्जरी के लिए बैंक से अधिक धनराशि नहीं निकाल पा रहे थे. पीएमसी बैंक में धार्रा के 80 लाख रुपये जमा थे. धार्रा का परिवार बैंक से पैसे नहीं निकाल पाया क्योंकि आरबीआई ने पीएमसी बैंक से निकासी पर 40,000 रुपये की सीमा लगाई हुई है.

इससे पहले सोमवार को जेट एयरवेज के पूर्व कर्मचारी संजय गुलाटी की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी. गुलाटी के निधन के कुछ ही घंटे बाद फट्टोमल पंजाबी (59) मुलुंड की सिंधी कॉलोनी में अपनी इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान पर गिर गए. एक दिन बाद योगिता बिजलानी ने नींद की गोलियों का सेवन करके आत्महत्या कर ली.