तिरूचिरापल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पीएमके के एक पदाधिकारी की फरवरी में तंजावुर जिले में हत्या के सिलसिले में गुरुवार को तमिलनाडु और कराईकल में एक इस्लामी संगठन से जुड़े परिसरों में छापे मारे. पुलिस ने यह जानकारी दी. इलाके में धर्मान्तरण को लेकर कुछ लोगों से सवाल करने पर वी रामलिंगम की हत्या कर दी गई थी. Also Read - दिल्ली की कोर्ट ने मुस्लिम युवाओं की भर्ती मामले में ISIS के 13 सदस्यों को सजा सुनाई

एनआईए ने गुरुवार को तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली और कुंभकोणम में पट्टाली मक्कल कांची (पीएमके) के पदाधिकारी रामालिंगम की हत्या के सिलसिले में तिरुचिरापल्ली में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) और तंजावुर जिले के कुंभकोणम में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया(एसडीपीआई) के कार्यालयों पर छापे मारे. Also Read - Bhima Koregaon Case: आदिवासी नेता स्टैन स्वामी को 23 अक्टूबर तक भेजा गया जेल, NIA ने आठ लोगों के खिलाफ फाइल की चार्जशीट

रामालिंगम ने फरवरी में तंजावुर के थरुबभुवनम इलाके में कुछ मुस्लिमों द्वारा धर्म परिवर्तन की कोशिश करने पर सवाल उठाए थे. बाद में बदमाशों के एक समूह ने उनकी हत्या कर दी थी. एनआईए को 14 मार्च को यह मामला सौंपा गया था. एनआईए के डीएसपी एपी शौकत अली की अगुआई में चार सदस्यीय एक टीम मामले की जांच कर रही है. Also Read - 4500 किमी से अयोध्या में राममंदिर के लिए 613 किलो का घंटा पहुंचा, 8 KM तक गूंजेगी ध्वनि, देखें फोटोज

राहुल गांधी के वादे को पीएम मोदी ने किया पूरा, जिस महिला की झोपड़ी में खाया था खाना, उसे मिला घर

कुम्बकोनम के नजदीक एक गिरोह द्वारा पीएमके कार्यकर्ता की हत्या के सिलसिले में जांच के तहत एनआईए टीम ने यहां संगठन के कुछ सदस्यों से भी पूछताछ की. उन्होंने बताया कि तिरूचिरापल्ली, कुम्बकोनम और कराईकल में संगठन के कार्यालयों में छापेमारी की गई. राज्य पुलिस ने इस सिलसिले में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया है.

PM नरेंद्र मोदी ने साइक्‍लोन फोनी से निपटने की तैयारी की हाईलेवल मी‍ट‍िंग में समीक्षा की