अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को 69 वर्ष के होने जा रहे हैं और इस मौके पर वह नर्मदा नदी पर बने गुजरात के सरदार सरोवर बांध स्थल पर जाएंगे, जहां जल पहली बार सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया है. प्रधानमंत्री सुबह गांधीनगर से केवड़िया के लिए रवाना होने से पहले गांव रैसान में अपनी मां हीराबा से मिलकर उनका आशीर्वाद लेंगे. इसके बाद सरदार सरोवर बांध स्थल पर उसके सर्वोच्‍च स्‍तर पर भरने का अवलोकन करेंगे. पीएम दिनभर अपने जन्‍मदिन के मौके पर आयोजित हो रहे कार्यक्रमों में व्‍यस्‍त रहेंगे.

बता दें कि बांध का जलस्तर 2017 में पहली बार बढ़ाया गया था. उसके बाद से जलस्तर रविवार शाम को 138.68 मीटर के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया है. राज्य सरकार के अनुसार प्रधानमंत्री सोमवार रात को अहमदाबाद हवाईअड्डे पर उतरेंगे. वह मंगलवार सुबह अपने 69वें जन्मदिन के अवसर पर नर्मदा जिले के केवड़िया में बांध स्थल का दौरा करेंगे और जल सर्वोच्च स्तर पर पहुंचने के लिए आयोजित ‘नमामि देवी नर्मदे महोत्सव’ में शामिल होंगे.

एक अधिकारी ने कहा कि मंगलवार सुबह गांधीनगर से केवड़िया के लिए रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री पास के गांव रैसान में अपनी मां हीराबा से मिलकर उनका आशीर्वाद लेंगे.

नर्मदा के जिला कलेक्टर आई के पटेल ने कहा, केवड़िया में बांध स्थल पर पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री एक सभा को संबोधित करेंगे. हम समारोह के लिए गुंबद के आकार का एक बड़ा पंडाल बनाएंगे, जिसमें नर्मदा, भरूच और छोटा उदयपुर जिलों से आने वाले करीब 10 हजार लोग आ सकेंगे.

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री अपने संबोधन के बाद बांध और स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के पास चल रहीं विकास परियोजनाओं का निरीक्षण करेंगे. स्टेच्यू ऑफ यूनिटी देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा है.

प्रधानमंत्री दोपहर करीब 12 बजे इस जगह से रवाना होने से पहले केवड़िया के पास गरुणेश्वर गांव में भगवान दत्तात्रेय के मंदिर में दर्शन करेंगे. उन्होंने कहा कि मंदिर के अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि अधिकारियों ने इस तरह के संकेत दिये हैं कि प्रधानमंत्री दोपहर 12 बजे से पहले मंदिर जाएंगे.

नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण (एनसीए) ने 2014 में बांध की ऊंचाई 121.92 मीटर से बढ़ाकर 138.68 मीटर करने की अनुमति प्रदान की थी. बांध का उद्घाटन प्रधानमंत्री मोदी ने 17 सितंबर, 2017 को किया था. सरकार के अनुसार ‘नमामि देवी नर्मदे’ महोत्सव पूरे राज्य में मनाया जाएगा और मुख्य समारोह केवड़िया में आयोजित किया जाएगा.