मुंबई/नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा कि उसने नीरव मोदी समूह के करीब 44 करोड़ रुपये कीमत की बैंक जमा और शेयरों के लेन देन पर रोक लगा दी है और अरबपति हीरा कोरोबारी से संबंधित स्थानों से आयातित घंडियों का विशाल संग्रह जब्त किया है. अधिकारियों ने बताया कि धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उन्होंने बैंक खातों और शेयरों के लेनदेन पर रोक लगा दी है. बैंक खातों में 30 करोड़ रुपये हैं, जबकि शेयरों की कीमत 13.86 करोड़ रुपये है.

उन्होंने बताया कि पिछले एक हफ्ते में अरबपति हीरा कारोबारी से संबंधित अलग अलग स्थानों पर ईडी की तलाशी में महंगी घड़ियों का जखीरा, 176 स्टील की अल्मारियां, 158 संदूक और 60 अन्य बक्से जब्त किए गए हैं. कल ही एजेंसी ने व्यापारी और उसके समूह की बैंक जमा, शेयर और लग्जरी गाड़ियां जब्त की हैं जिनकी कीमत 100 करोड़ रुपये से ज्यादा है.

ईडी और अन्य एजेंसियां मोदी, उसके मामा एवं गीतांजलि जेम्स के प्रोमोटर मेहुल चोकसी के खिलाफ जांच कर रही हैं. दरअसल पंजाब नेशनल बैंक(पीएनबी) की शिकायत के बाद मामला सामने आया था कि उन्होंने बैंक के कुछ कर्मियों के साथ मिलकर कथित रूप से राष्ट्रीयकृत बैंक से 11,400 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की थी. सीबीआई और ईडी ने मामले की जांच में दो-दो प्राथमिकियां दर्ज की हैं। कहा जाता है कि आपराधिक मामला दर्ज होने से पहले ही मोदी और चोकसी ने देश छोड़ दिया था.