नई दिल्ली। पीएनबी घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी ने एक बार फिर सीबीआई को दिए अपने जवाब में जांच के लिए पेश होने से साफ इनकार कर दिया है. मेहुल चोकसी ने सीबीआई को भेजे अपने जवाब में कहा कि रीजनल पासपोर्ट ऑफिस ने मेरे से कभी संपर्क किया ही नही. मेरा पासपोर्ट सस्पेंड है. मैं आपके कार्यालय का बहुत सम्मान करता हूं और आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत आने को लेकर मैं कोई बहाने नहीं बना रहा. 

PNB घोटाला: मामा मेहुल चोकसी के साथ मिलकर नीरव मोदी ने पूरे सिस्टम को बनाया 'मामू'

PNB घोटाला: मामा मेहुल चोकसी के साथ मिलकर नीरव मोदी ने पूरे सिस्टम को बनाया 'मामू'

Also Read - जेल से छूटने के बाद ड्रग्स केस की आरोपी रिया चक्रवर्ती बिग बॉस 14 में करेंगी एंट्री? लेकिन...

Also Read - टीआरपी घोटाला! सीबीआई ने अपने हाथों में ली जांच, दर्ज की पहली FIR

चोकसी ने कहा, मैं कहना चाहता हूं कि मैं विदेश में हूं और इससे पहले भी आपके नोटिस का जवाब दे चुका हूं. हैरत की बात है कि अभी तक मेरी ओर से उठाए गए मुद्दों को सुलझाया नहीं गया है. इससे मेरी सुरक्षा को लेकर मेरा डर और बढ़ गया है. मीडिया की ओर से मेरा ट्रायल जारी है और हर मुद्दे को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जा रहा है. मैं कहना चाहता हूं कि जांच में मेरे शामिल होने की बात भी कही जा रही है और मुझे असहाय छोड़ दिया गया और न ही मुझे कोई जानकारी दी जा रही है. कई एजेंसियों द्वारा की गई कार्रवाई पूरी तरह गलत है. जिस तरह के आरोप मुझ पर लगाए गए हैं वो बढ़ चढ़कर बताए गए हैं और इसने मुझे पूरी तरह असुरक्षित कर दिया है. Also Read - Hathras case Latest Updates: कहां तक पहुंची हाथरस मामले की सीबीआई जांच? अब आरोपियों की बारी

मेहुल चोकसी ने आगे कहा, मैं विदेश में अपने बिजनेस में पूरी तरह व्यस्त हूं और भारत में गलत आरोपों के तहत बंद कर दिए गए मेरे बिजनेस के मामले सुलझाने में लगा हुआ हूं. साथ ही खराब स्वास्थ्य की वजह से इस वक्त मैं भारत आने में पूरी तरह असमर्थ हूं.

बता दें कि 11,400 करोड़ के पीएनबी घोटाले में मेहुल चोकसी भी एक आरोपी है. इस मामले में प्रमुख आरोपी मेहुल का भांजा हीरा व्यापारी नीरव मोदी है. पीएनबी घोटाले का खुलासा होने से ऐन पहले दोनों देश छोड़कर फरार हो गए थे. धीरे धीरे सीबीआई की जांच में साफ हुआ कि किस तरह नीरव ने साख पत्रों के जरिए बैंक को अरबों का चूना लगाया. ईडी ने इन दोनों की करोड़ों की संपत्ति जब्त कर ली है. सीबीआई ने दोनों के पासपोर्ट भी सस्पेंड कर दिए हैं. सीबीआई ने इन्हें जांच में पेश होने के लिए कहा, लेकिन दोनों ने हर बार बहानेबाजी कर जांच में शामिल होने से इनकार कर दिया.