नई दिल्‍ली: कोरोना वायरस महामारी के तेजी से बढ़ने के मद्देनजर लागू किए गए लॉकडॉउन की अनदेखी करके मस्जिद में नमाज पढ़ने गए कुछ लोगों को भारी पड़ गया. यह वीडियो कर्नाटक से सामने आया है. Also Read - New Restrictions in Delhi: दिल्ली में लगाई गईं नई पाबंदियां, जानिए क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद

कर्नाटक के बेलगांव में मुस्लिम समुदाय के कई लोग गुरुवार को मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए गए थे, लेकिन जब वे बाहर निकले तो नाराज पुलिसकर्मियों ने डंडे बरसाना शुरू कर दिए. यह घटना मस्जिद के गेट पर ही हुई है. Also Read - Full Lockdown in Maharashtra Updates: महाराष्ट्र में पूर्ण लॉकडाउन लगेगा या नहीं? मंत्री ने कहा, कल फैंसला लेंगे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

वीडियो में मस्जिद बाहर निकल रहे कई लोग पिटने से बचने के लिए दौड़ लगाते हुए नजर आ रहे हैं. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक दिन पहले देशभर में तीन सप्‍ताह के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया था. इसके बाद पूरे देश में लॉकडाउन लागू है. Also Read - Coronavirus in Delhi: दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 7,897 नए मामले सामने आए, 39 रोगियों की मौत

गौरतलब है कि कर्नाटक में कोरोना वायरस से अब तक दो मौतें हो चुकी हैं. स्वास्थ्य विभाग ने गुरुतिवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि इस वायरस से मौत का यह मामला राज्य में पुष्ट हुए चार नए मामलों में शामिल था. कर्नाटक में कोरोना वायरस वायरस के संक्रमण से प्रभावित लोगों की संख्या 55 के पार हो चुकी है.

कर्नाटक की राज्य सरकार ने वायरस को काबू करने के लिए कर्नाटक महामारी रोग (कोविड-19) नियम 2020 जारी किए हैं. जिले के उपायुक्तों, बीबीएमपी के आयुक्त एवं संयुक्त आयुक्त, नगर निगमों के आयुक्तों और जिला पुलिस उपायुक्त से इस प्रकार की घटनाओं के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा गया है.

कर्नाटक सरकार ने उन मकान मालिकों के खिलाफ कानून के तहत कड़ी दंडात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी है, जो डॉक्‍टरों पैरामेडिकल स्‍टाफ कर्मियों एवं स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों से कोरोना वायरस फैलने की आशंका जताकर उनसे मकान खाली करने को कह रहे हैं.