नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने मंत्र‍ियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया है.दिल्ली सरकार में पोर्टफोलियो आवंटन को अंतिम रूप दिया गया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल किसी भी विभाग का कार्यभार नहीं संभालेंगे. सत्येंद्र कुमार जैन के अधीन दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) होगा. Also Read - गौतम गंभीर के आरोपों पर बोले केजरीवाल- रुपये की कमी नहीं है, रक्षात्मक उपकरणों की कमी है समस्या

एनएनआई के मुताबिक, मनीष सिसोदिया को एक बार फिर डिप्‍टी सीएम बनाया गया है और उन्‍हें सबसे ज्‍यादा विभागों की जिम्‍मेदारी भी दी गई है. मनीष सिसोदिया एक बार फिर उपमुख्यमंत्री होंगे. एएनआई के मुताबिक, उन्हें शिक्षा, वित्त, योजना, भूमि और भवन, सतर्कता, पर्यटन, सेवा, कला, संस्कृति और भाषा विभाग आवंटित किए गए हैं. केजरीवाल कोई भी व‍िभाग नहीं लेंगे. Also Read - दिल्ली में निजामुद्दीन कार्यक्रम पर शरद पवार ने उठाए सवाल, पूछा -'अनुमति किसने दी?'

गोपाल राय को पर्यावरण विभाग आवंटित किया गया है और राजेंद्र पाल गौतम को महिला एवं बाल विकास विभाग आवंटित किया गया है. Also Read - COVID-19: दिल्ली सरकार की मदद को आगे आए गौतम गंभीर, फिर किया लाखों रुपये का दान

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) सरकार में मंत्री सत्येन्द्र जैन को महत्वपूर्ण जल विभाग आवंटित किया गया है. सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी. पार्टी की पिछली सरकार में यह विभाग मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास था.

सूत्रों ने बताया कि पार्टी की दिल्ली इकाई के संयोजक गोपाल राय को पर्यावरण विभाग जबकि राजेन्द्र पाल गौतम को महिला एवं बाल विकास विभाग सौंपे गए है. सूत्रों ने संकेत दिए कि अन्य विभागों में कोई बड़ा बदलाव नहीं किया गया है.

सत्‍येंद्र जैन के पास महत्वपूर्ण लोक निर्माण विभाग, स्वास्थ्य, बिजली और शहरी विकास विभागों के अलावा अब दिल्ली जल बोर्ड का कार्यभार भी रहेगा.

पर्यावरण विभाग पहले परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के पास था, जबकि महिला एवं बाल विकास विभाग वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया के पास था.  (इनपुट: एजेंसी)