पुड्डुचेरी. पुड्डुचेरी में कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकार और उपराज्यपाल किरन बेदी के बीच टकराव नए दौर में पहुंच गया है. राज्य में कांग्रेस पार्टी की यूनिट ने एक पोस्टर रिलीज किया है जिसमें किरन बेदी को अडोल्फ हिटलर के रूप में दिखाया गया है.

विधायकों को मनोनीत किए जाने की प्रक्रिया को लेकर जारी किए गए इस पोस्टर को कथित तौर पर केंद्र और उपराज्यपाल से टकराव के बाद वायरल कर दिया गया. खुद किरण बेदी ने इस पोस्टर की तस्वीर को ट्वीट किया है. इस पोस्टर को ट्वीट करते हुए पूर्व आईपीएस बेदी ने हाथ जोड़ते हुए एक इमोजी भी पोस्ट की. पुड्डुचेरी सरकार और गवर्नर के बीच चल रही तनातनी इस वाकये के बाद एक बार फिर से बढ़ सकती है.

4 जुलाई को विधानसभा में बीजेपी के 3 सदस्यों के शपथग्रहण के बाद से ही बेदी कांग्रेस के निशाने पर आ गई थीं. जिन तीन विधायकों को विधानसभा की सदस्यता दी गई है, उनमें पुदुचेरी बीजेपी प्रेजिडेंट वी. सामीनाथन, केजी शंकर और एस. सेल्वागणपति शामिल हैं. इन तीन सदस्यों को केंद्र ने नामांकन के जरिए विधानसभा भेजा है. इसका कांग्रेस ने विरोध किया. पुड्डुचेरी के सीएम वी नारायणसामी ने भी प्रदर्शन में हिस्सा लिया. कांग्रेस के अलावा उसके सहयोगियों डीएमके और लेफ्ट दलों के साथ वीसीके ने भी उपराज्यपाल का विरोध किया.

8 जुलाई को इसी सिलसिले में एक बंद भी राज्य में बुलाया गया. विरोध कर रही पार्टियों ने इसे उपराज्यपाल की असंवैधानिक कार्यप्रणाली और लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं का पालन न करते हुए 3 बीजेपी कार्यकर्ताओं का नामांकन का विरोध नाम दिया. प्रदेश कांग्रेस कमिटी लंबे समय से किरण बेदी को राज्यपाल के पद से हटाए जाने की मांग करती रही है.