Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana scheme: ‘जन धन’ योजना की छठी वर्षगांठ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि यह पहल ‘‘बदलाव लाने वाली” रही है और यह गरीबी उन्मूलन के लिए उठाए गए कदमों की नींव साबित हुई है. Also Read - नेताजी के पोते ने कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के नाम पर फिर से विचार करने के लिए PM से किया अनुरोध

भारतीय जनता पार्टी के 2014 में सत्ता में आने के बाद, यह सरकार की पहली बड़ी योजना थी जिसके तहत करोड़ों लोगों खासकर गरीबों के बैंक खाते खोले गए. Also Read - हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के कार्यक्रम में पहुंचा लखनऊ का ये कहानीकार, होगी दास्तानगोई

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “आज के दिन, छह साल पहले, प्रधानमंत्री जनधन योजना बिना खाते वालों को बैंकों से जोड़ने के महत्त्वाकांक्षी लक्ष्य के साथ शुरू की गई थी. यह पहल महत्त्वपूर्ण बदलाव लाने वाली रही, गरीबी उन्मूलन की कई पहलों की नींव साबित हुई और इसने करोड़ों लोगों को लाभ पहुंचाया.” Also Read - कृषि कानून का विरोध कर रहे विपक्ष पर बरसे PM मोदी, ट्रैक्टर जलाने पर कहा- किसान जिसकी पूजा करता है उसे ही...

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री जनधन योजना का शुक्रिया जिसकी वजह से कई परिवारों का भविष्य सुरक्षित हुआ. लाभार्थियों में से अधिकतर ग्रामीण इलाकों से हैं और महिलाएं हैं. मैं उन सभी की प्रशंसा करता हूं जिन्होंने प्रधानमंत्री जनधन योजना को सफल बनाने के लिए अथक मेहनत की.”

मोदी द्वारा साझा किए गए ग्राफिक्स में दिखा कि अब तक 40 करोड़ से अधिक बैंक खाते खोले गएं हैं जिनमें से 63 प्रतिशत से अधिक लाभार्थी ग्रामीण इलाकों से हैं. इनमें से करीब 55 प्रतिशत महिलाएं हैं.

सराकर ने कहा था कि योजना की वजह से वह कल्याणकारी योजनाओं के लाभ को सीधे जरूरतमंदों को भेजने में सक्षम हुई है.